Thursday, June 13

सिपाही ने खुद बैग में तमंचा रख युवक को फंसाया, बहन ने कहा, मेरा भाई बेकसूर

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 28 सितंबर (प्र)। मेरठ के खन्द्रावली गांव की महिलाओं ने आईजीदफ्तर के बाहर हंगामा कर प्रदर्शन किया। महिलाओं का आरोप है, सिपाहियों ने खुद उनके घर पहुंचकर बाइक में तमंचा रखा। इसके बाद उनके भाई को पकड़कर ले गई। बहन ने कहा, मेरा भाई बेकसूर है। वहीं सिपाही के बाइक में कुछ सामान रखने का सीसीटीवी भी सामने आया है।

वहीं महिलाओं का आरोप है कि सिपाही ने खुद तमंचा रखा, इसके बाद जबरन हमें फंसाने के लिए भाई को उठाकर ले गए हैं। वहीं पूरे मामले की जांच के लिए आईजी नचिकेता झा स्वयं पड़ताल कर रहे हैं।
आईजी दफ्तर पहुंची युवक की बहन राखी त्यागी ने बताया, ष्गांव में उनके पारिवारिक विवाद चल रहा है। आरोप लगाया कि पुलिस ने दूसरे पक्ष से साठगांठ कर उन्हें फंसाने का काम किया है। पहले सिपाहियों ने खुद घर आकर युवक को पकड़ा और बाइक में तमंचा रखा। पुलिस पर युवक को गलत तरीके से हिरासत में लेने और फंसाने का आरोप लगाया है। आईजी ने एसएसपी को तत्काल जांच कराकर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं।

युवक की बहन राखी ने बताया, ष्खन्द्रावली गांव निवासी मेरे पापा अशोक त्यागी का दूसरे लोगों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है। दूसरे पक्ष से मिलकर पुलिस मेरे परिवार का उत्पीड़न कर रही है।ष्
उसने बताया, ष्मंगलवार रात खरखौदा पुलिस हमारे घर पहुंची। एक पुलिसकर्मी ने उनकी बाइक के बैग में कुछ रखा और इसके बाद मेरे भाई अंकित को हिरासत में ले लिया। इसके बाद बाइक बैग से पुलिसकर्मियों ने कुछ निकाला और अंकित को साथ ले गए। तभी से उसे हिरासत में बैठा रखा है। यह पूरा घटनाक्रम उनके घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया।
परिवार के लोग देर रात में ही आईजी के यहां पहुंचे। लेकिन उनसे मुलाकात नहीं हो सकी। बुधवार सुबह वह आईजी से मिले। उन्हें सीसीटीवी फुटेज भी दिखाई।

Share.

About Author

Leave A Reply