Sunday, April 14

रानीगंज में कोयला खदान ढहने से तीन लोगों की दर्दनाक मौत, कई लापता

Pinterest LinkedIn Tumblr +

कोलकाता 13 अक्टूबर। पश्चिम बंगाल में बड़ा हादसा हुआ है. यहां पश्चिम बर्धमान जिले में एक कोयला खदान ढहने से तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है. वहीं कई लोग खदान के नीचे दब गए हैं. अधिकारियों ने बताया है कि हादसे के वक्त खदान से अवैध रूप से कोयला निकाला जा रहा था. रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. इसी कोयला खदान पर अक्षय कुमार की फिल्म ‘मिशन रानीगंज’ 6 अक्टूबर को रिलीज हुई है.

यह घटना रानीगंज में ईसीएल की नारायणकुरी खदान में हुई। बुधवार देर रात से शुरू हुए ऑपरेशन के बाद गत सुबह तीन शव बरामद किये गए। आसनसोल-दुर्गापुर पुलिस कमिश्नरेट के डिप्टी कमिश्नर (सेंट्रल) एस.एस.कुलदीप ने बताया कि खदान के नीचे से तीन शव बरामद किए गए हैं। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए आसनसोल जिला अस्पताल भेजा जा रहा है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि ज्यादातर लोग तो सुरक्षित बाहर निकल आए लेकिन कम से कम 6-7 लोगों के फंसे होने की आशंका थी. इनमें तीन शवों को निकाल लिया गया है. मृतकों की पहचान 38 वर्षीय दिनेश रुइदास, 17 वर्षीय नाबालिग सुमीर बाउरी और 21 वर्षीय सुरजीत सेन के रूप में की गई, जो आसपास के इलाके के निवासी थे. कथित रूप से कुछ लोग अभी भी मलबे में फंसे हैं. सीतारामपुर के खान सुरक्षा क्षेत्र एक के महानिदेशक इरफान अहमद अंसारी के नेतृत्व में एक टीम ने घटना की जांच शुरू की और घटनास्थल का दौरा किया.
सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए आसनसोल जिला अस्पताल भेजा गया. रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोयला तस्कर यहां काफी सक्रिय हैं. वे कथित तौर पर कोयले की चोरी के लिए “मजदूरों” को लगाते हैं और अवैध रूप से खुदाई का काम करते हैं.

Share.

About Author

Leave A Reply