Friday, April 12

कक्षा में धार्मिक नारे लगाने और छेड़छाड़ में दो छात्रों पर मुकदमा

Pinterest LinkedIn Tumblr +

बुलंदशहर 09 अक्टूबर। बुलंदशहर में एक निजी डिग्री कॉलेज के दो छात्रों को पुलिस ने गिरफ्तार कर बीते शनिवार को जेल भेज दिया। उनपर एक छात्रा के साथ छेड़छाड़ की कोशिश और प्रिंसिपल और एक लेक्चरर के साथ मारपीट करने के आरोप हैं। कॉलेज के प्रिंसिपल ने शुक्रवार को थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। इसमें आरोप लगाया कि दोनों छात्रों ने 29 सितंबर को एक लड़की के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की। जब एक लेक्चरर ने आपत्ति जताई तो उन्होंने उसके साथ मारपीट की और क्‍लास के अंदर ‘जय श्री राम’ के नारे भी लगाए।

प्रिंसिपल ने कहा, ‘पीड़ित छात्रा ने 30 सितंबर को मेरे पास इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई थी। छेड़छाड़ के प्रयास के बाद उसने कॉलेज आना बंद कर दिया था। हमने उसकी शिकायत का सत्यापन किया और पाया कि यह सच है। इसके बाद दोनों छात्रों को चेतावनी दी गई थी कि वे कॉलेज परिसर में संयम बनाए रखें।’

उन्होंने कहा कि 5 अक्टूबर को दोनों छात्र और हिंदू रक्षा दल के दो दर्जन से अधिक कार्यकर्ता कॉलेज परिसर में घुस गए और उनके और अन्य कर्मचारियों के साथ अभद्रता की। आरोप‍ियों का आरोप था कि छात्रा ने कक्षा में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए थे, जिस पर उन्होंने आपत्ति जताई। इसके जवाब में छात्रा ने उन पर छेड़छाड़ करने के झूठे आरोप लगाए।’ प्रिंसिपल ने कहा, ‘हमने 5 अक्टूबर को दोनों छात्रों को निष्कासित कर दिया और प्राथमिकी भी दर्ज कराई।’

पुलिस ने बताया कि दोनों छात्रों को कॉलेज से निकाले जाने के बाद मुसीबत का अंदेशा हुआ तो उन्होंने उसी थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई। इसमें आरोप लगाया कि लड़की ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे और जब उन्होंने आपत्ति जताई तो उसने उन पर छेड़छाड़ करने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

अनूपशहर के उप पुलिस अधीक्षक अन्विता उपाध्याय ने बताया, ‘हमने दोनों शिकायतों की जांच की और पाया कि दोनों छात्रों के आरोप निराधार हैं, जबकि प्रिंसिपल की शिकायत सच पाई गई। इसके बाद आईपीसी की धारा 354 (किसी महिला पर आपराधिक बल, उसकी शील भंग करने की इरादा रखते हुए), 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाने की सजा) और 506 (आपराधिक धमकी के लिए सजा) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई।’

Share.

About Author

Leave A Reply