Wednesday, May 22

मेरठ की विधि चौधरी ने तोड़ा छह साल पुराना मीट रिकॉर्ड, स्वर्ण पदक पर जमाया कब्जा

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 09 नवंबर (प्र)। राष्ट्रीय एथलेटिक प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने की आदत बना चुकी मेरठ की राष्ट्रीय एथलीट विधि चौधरी ने अब अपने ही रिकार्ड को तोड़ने का सिलसिला भी शुरू कर दिया है। कोयंबतूर में चल रही 38वीं राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक प्रतियोगिता में दूसरे दिन मेरठ की प्रतिभावान गोला फेंक की खिलाड़ी विधि ने 15.36 मीटर गोला फेंक कर नया प्रतियोगिता कीर्तिमान स्थापित कर दिया।
नए मीट रिकार्ड के साथ उन्होंने मेरठ की ही किरण बालियान के 14.54 मीटर के रिकार्ड को संशोधित कर दिया जो उन्होंने वर्ष 2017 में बनाया गया था। अंडर 20 आयु वर्ग में खेलते हुए विधि ने पांचवें थ्रो में यह सफलता हासिल की।

इस स्पर्धा में यशश्री ने 13.75 मीटर गोला फेंक कर रजत पदक और उत्तर प्रदेश की ही झलक चहल ने 13.72 मीटर गोला फेंक कर कांस्य पदक जीता है। इस स्पर्धा का राष्ट्रीय रिकार्ड नवजीत कर ढिल्लन के नाम है जो 15.89 मीटर है।

विधि ने पिछले वर्ष गुवाहाटी में आयोजित 37वीं नेशनल जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 में भी नए रिकार्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता था। विधि ने छह साल पहले 2016 में कोयंबटूर में हुए राष्ट्रीय खेलों में राजस्थान की कचनार चौधरी के 15.99 मीटर के रिकार्ड को तोड़ कर अपने नाम नया रिकार्ड दर्ज किया था।

रोहटा रोड निवासी विधि चौधरी ने पिछले वर्ष गोला फेंक 16.56 मीटर फेंका था। इस उपलब्धि के साथ ही अंडर-18 वर्ग में 16 मीटर थ्रो करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी भी बन गईं थी।

मेरठ जिले में कलीना के हसनपुर रजपुरा गांव की रहने वाली विधि मेरठ शहर में स्थित कैलाश प्रकाश स्पोट्र्स स्टेडियम में कोच रोबिन सिंह के मार्गदर्शन में प्रशिक्षण करती हैं। साल 2018 में प्रशिक्षण शुरू करने के साथ ही विधि ने बहुत तेजी से अपने प्रदर्शन को निखारा और अपने प्रतिद्वंद्वियों में अगली पंक्ति में खड़ी हो गई। पहली ही प्रदेश स्तरीय एथलेटिक चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के साथ साल 2018 में 34वीं जूनियर नेशनल एथलेटिक चैंपियनशिप रांची में हिस्सा लेने पहुंची। अपने दमदार प्रदर्शन के साथ ही विधि ने नेशनल में शाटपुट में 12.86 मीटर की दूरी नाप कर स्वर्ण पदक जीत लिया।

Share.

About Author

Leave A Reply