Thursday, May 30

छोटे भाई ने कार से मारी टक्कर, बोनट पर लटके बड़े भाई को 3 किलोमीटर दूर ले गया

Pinterest LinkedIn Tumblr +

नई दिल्ली 16 अक्टूबर। अलीपुर इलाके में बीते शुक्रवार दोपहर सड़क पर लगे यातायात जाम को खुलवाने के लिए कार से बाहर उतरे दवा व्यापारी को सगे भाई ने ही प्रॉपर्टी विवाद को लेकर क्रेटा कार से टक्कर मार दी।
बोनट पर गिरे व्यापारी को जान से मारने के लिए कार चालक करीब तीन किलोमीटर तक बेतरतीब तरीके से कार को दौड़ाता रहा। बचने के लिए व्यापारी ने कार का बोनट पकड़ लिया। जब व्यापारी के भतीजे ने कार का पीछा किया तो कार चालक व्यापारी को बीच सड़क वाहनों के सामने फेंककर फरार हो गया।

घायल व्यापारी की पहचान हरियाणा के सोनीपत के सेक्टर 15 के राजेश कुमार के रूप में हुई है। पुलिस उन्हें नरेला के सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल लेकर गई, जहां से उन्हें अंबेडकर अस्पताल रेफर कर दिया गया। अलीपुर थाना पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर मामले में जांच कर रही है।

राजेश कुमार ने बताया कि वह पहले दिल्ली पुलिस में कार्यरत थे। 2016 में रिटायरमेंट लेने के बाद वह दवा का व्यापार करने लगे। उन्होंने आरोप लगाया कि वह कार के बोनट पर लटके हुए चिल्ला रहे थे और उसके भाई का दिल नहीं पसीजा। वह कार दौड़ाए जा रहा था।

पुलिस को दी शिकायत में राजेश कुमार ने बताया कि उनका उनके छोटे भाई महेश कुमार के साथ करीब डेढ़ वर्ष से प्रापर्टी को लेकर विवाद चल रहा है।यह विवाद आनंद पर्वत औद्योगिक क्षेत्र स्थित प्लाट को लेकर है, जो उन्होंने किराये पर दे रखा है।

बृहस्पतिवार को वह प्रापर्टी बुराड़ी एसडीएम की ओर से सील कर दी गई थी। शुक्रवार को उसकी पेशी पर जाने के लिए वह महिंद्रा एक्सयूवी 300 में सवार होकर घर से निकले। इस दौरान वह कार चला रहे थे व उनका भतीजा अंकित साथ बैठा था। दोपहर 12 बजे के करीब वह हनुमान मंदिर से थोड़ा आगे पुस्ता रोड पहुंचे तो वहां पर यातायात जाम लगा था।वह गाड़ी से नीचे उतरकर जाम खुलवाने लगे। तभी पीछे से उनका छोटा भाई महेश क्रेटा कार मे आया और उन्हें टक्कर मार दी। जिससे वह बोनट पर गिर गए।इसके बाद उन्होंने बोनट को पकड़ लिया। महेश ने गाड़ी भगा ली।बोनट पर लटके राजेश मदद के लिए चिल्लाते रहे, लेकिन महेश ने गाड़ी नहीं रोकी। आरोप है कि वह बेतरतीब तरीके से चलाते हुए राजेश को कार से गिराकर जान से मारने का प्रयास करता रहा।

करीब तीन किलोमीटर दूर जाकर उनकी पकड़ छूट गई व वह गाड़ी से रोड की तरफ गिर गए। तभी उनकी कार लेकर उनका भतीजा आ गया। वह इसका वीडियो भी बना रहा था। जिसके आते ही महेश वहां से गाड़ी लेकर भाग गया। अंकित ने पुलिस को कॉल किया। इसके बाद उन्हें सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल लेकर गए, वहां से उन्हें अंबेडकर अस्पताल भेज दिया गया। वहीं इस मामले में राजेश के भाई महेश की शिकायत पर अलीपुर थाना पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की है।

Share.

About Author

Leave A Reply