Saturday, April 20

दिल्ली के दर्दनाक हादसे के बाद फिर चर्चाओं में सोतीगंज, भारी पुलिसबल के साथ चला चैकिंग अभियान

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 13 अक्टूबर (प्र)। मेरठ पुलिस की टीम ने सोतीगंज में छापेमारी की है। कैंट सीओ भारी फोर्स के साथ सोतीगंज पहुंची। यहां चौकिंग अभियान चलाया। दिल्ली में मंगलवार को कार लूट फिर ड्राइवर को घसीटकर हुई हत्या मामले के बाद एक बार फिर सोतीगंज का वाहन कमेला चर्चा में आ गया है। घटना के आरोपी मेहराज सलमानी और आसिफ दोनों मेरठ के हैं पुलिस ने दोनों को बुधवार को अरेस्ट किया था। दोनों आरोपियों ने पूछताछ में बताया था कि दिल्ली से लूटी कार को वो मेरठ में सौदा कर चुके थे। यहां बेचने वाले थे। भारी पुलिसबल सोतीगंज में बनी दुकानों, मकानों में चौकिंग कर रहा है।

दिल्ली महिपालपुर इलाके में हुई दर्दनाक घटना में लूटी कार का सौदा मेरठ में तय हुआ था। कार यहीं बेची जानी थी। वहीं दो दिन पहले कैराना पुलिस ने चार वाहन चोरों को अरेस्ट किया है। चारों वाहन चोर मेरठ के निकले हैं। चारों चोर कैराना में वाहन चुराने के दौरान पुलिस के शिकंजे में आए थे। पूछताछ में कुबूल किया कि वो वाहनों को चोरी कर बेचते थे। लगातार दूसरे शहरों में जिस तरह वाहन चोरी और बेचने की घटनाएं हो रही हैं उससे शक है कि चोरीछिपे वाहनों को काटकर बेचने का काम चल रहा है। मेरठ के सोतीगंज को वाहनों का कमेला कहा जाता था। यहां हर राज्य से लाए गए चोरी के वाहन सेकेंडों में कटकर अलग-अलग पार्ट में बेचे जाते थे। भले 12 दिसंबर 2021 को तत्कालीन एसएसपी प्रभाकर चौधरी के समय सोतीगंज कमेला बंद हो गया है। लेकिन लगातार हो रही वाहन चोरी की वारदातों से एक बार फिर शक है कि अंदरखाने गोदामों में कटान का काम शुरू हो गया है।

800 दुकानों, 80 गोदामों पर पड़ा था ताला
दिसंबर 2021 में सोतीगंज की 800 दुकानों और 80 गोदामों को बंद कर दिया गया था। लेकिन एसएसपी प्रभाकर चौधरी के तबादले के बाद अवैध काम फिर से चालू हो गया है। दिल्ली की घटना में पकड़े मोहसिन और आसिफ ने खुद बताया कि उन्होंने मेरठ में कबाड़ी उजैर, मोहसिन और अज्जू को कई वाहन चोरी कर बेचे हैं।
दिल्ली के महिपालपुर में 10 अक्टूबर को लूट के बाद ड्राइवर की निर्मम हत्या कर दी गई। आरोपियों ने ड्राइवर को कार से करीब 200 मीटर तक घसीटा। जिसके कारण ड्राइवर ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। वारदात को अंजाम देने वाले 2 आरोपियों को पुलिस ने बुधवार देर रात मेरठ के किठौर से गिरफ्तार किया।
आरोपियों के नाम मेहराज और आसिफ है। दोनों ने एयरपोर्ट जाने के लिए महिपालपुर से कैब हायर की। इसके बाद महिपालपुर में तमंचे के बल पर ड्राइवर बिजेंद्र से कार लूटी। फिर उसे एनएच-8 पर चलती गाड़ी से बाहर फेंक दिया। इसी दौरान बिजेंद्र का हाथ कार में फंस गया और वो घसीटता चला गया।

Share.

About Author

Leave A Reply