Sunday, April 14

अंकिता भंडारी हत्याकांड: सीबीआई जांच की मांग को लेकर उत्तराखंड़ महिला कांग्रेस अध्यक्ष ने मुड़वाया सिर

Pinterest LinkedIn Tumblr +

देहरादून 22 सितंबर। अंकिता भंडारी की हत्या को एक साल हो गया है। हत्याकांड की कोर्ट में सुनवाई चल रही है और दूसरी तरफ राजनीतिक संगठनों ने एक बार फिर से अंकिता को न्याय दिलाने के लिए कमर कस ली है। गुरुवार को सीएम आवास कूच के दौरान अंकिता हत्याकांड की सीबीआई जांच के लिए महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष और महामंत्री ने अपना सिर मुंडवाया। प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ज्योति रौतेला के नेतृत्व में अंकिता हत्याकांड की सीबीआई जांच सहित राज्य और केंद्र सरकार के नीतियों के खिलाफ काफी संख्या में महिला कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री आवास कूच किया। ज्योति रौतेला का कहना था कि कांग्रेस अंकिता भण्डारी हत्याकांड की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग लगातार राज्य और केंद्र सरकार से करती आ रही है। हालांकि आज तक अंकिता के परिवार को न्याय नहीं मिला है।

उन्होंने कहा कि भाजपा नेता के रिजार्ट में बेटी अंकिता भंडारी के साथ हुए इस जघंय अपराध के बाद सरकार ने रातोंरात सबूत नष्ट करने का काम किया। इससे स्पष्ट होता है कि भाजपा सरकार में अपराधियों को खुला संरक्षण दिया जा रहा है। जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के जरिए रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चलाने के आदेशों से इनकार किया जा रहा है। भाजपा सरकार सबूत नष्ट करने के बाद अपनी पीठ थपथपा रही है।

उन्होंने कहा कि इस जघन्य आपराधिक घटना में शामिल सभी लोगों के नामों का खुलासा होना चाहिए। इसके लिए कांग्रेस पार्टी इस जांच सीबीआई से कराने की मांग करती आ रही है। हालांकि उत्तराखंड सरकार अपने लोगों के बचाने के लिए सीबीआई जांच करने से कतरा रही है।
उन्हें न्याय देने के बजाए उनका और अधिक उत्पीड़न किया जा रहा है। इस दौरान महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष ज्योति रौतेला और महामंत्री शिवानी थपलियाल मिश्रा ने अंकिता भंडारी को न्याया दिलाने के लिए अपना सिर मुंडवाकर जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया।

Share.

About Author

Leave A Reply