Thursday, February 29

मजबूती के साथ अकेले चुनाव लडेगी बसपा : मुनकाद अली

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 13 फरवरी (प्र)। प्रदेश में बदलते राजनैतिक समीकरण के बीच सियासी दुनियादारों की निगाह अब बहुजन समाज पार्टी के रुख पर टिकी है। इसी दौरान बसपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्व सांसद बाबू मुनकाद अली ने किसी भी गठबंधन से साफ इंकार कर दिया। उनका मानना है कि गठबंधन से बसपा को हमेशा नुकसान हुआ है। उप्र में बसपा दलित, मुस्लिम और ओबीसी समीकरण के बूते इतिहास दोहराएगी। खासकर मेरठ, सहारनपुर, मुरादाबाद मंडल में बसपा हर सीट पर परचम लहराने की स्थिति में है।

मुनकाद अली ने गत दिवस फूलबाग कालोनी स्थित बसपा जिला कार्यालय पर संगठन की समीक्षा करने के बाद अमर उजाला से विशेष बातचीत की। उन्होंने भाजपा पर कटाक्ष किया कि भले ही कुछ दल अपने चुनाव कार्यालय खोलकर शोर मचा रहे हों, लेकिन बसपा शांतिपूर्ण तरीके से अपने कैडर कैंपों के माध्यम से चुनाव की रणनीति तैयार कर चुकी है। राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि इंडिया गठबंधन का किला पहले दिन से ही दरक रहा है।

बसपा मुखिया मायावती साफ कह चुकी हैं कि बसपा इंडिया गठबंधन में शामिल नहीं होगी। कहा कि बसपा पूर्व में सपा, रालोद और कांग्रेस के साथ गठबंधन करके देख चुकी है, जिसका फायदा बसपा को कभी नहीं मिला। किसी भी पार्टी की विचारधारा बसपा से मेल नहीं खाती। उन्होंने निकाय चुनाव मैं मुस्लिमों के असदुददीन ओवेसी के प्रति रुझान पर कहा कि वह स्थानीय चुनाव थे कुछ लोगों ने मुस्लिमों को गुमराह किया। अब मुसलमान किसी के बहकावे में आने वाला नहीं है।

दलित, मुस्लिम और दबे कुचलों का अपमान हो रहा है। ये सब एकजुट होकर लोकसभा चुनाव में अपने अपमान का बदला लेंगे। इस अवसर पर मंडल प्रभारी शाहजहां सैफी, मोहित जाटव, कमल सिंह, कुलदीप, जिलाध्यक्ष जयपाल सिंह पाल, महावीर प्रधान, मुरारीलाल कैन, शहर विधान सभा अध्यक्ष परवेज आलम उर्फ गोलू महासचिव संजय सैनी, भोपाल चांदना, ओमपाल खादर, पप्पू जाटव, खालिद, कुंवरपाल आदि मुख्य रहे।

मुनकाद अली ने समीक्षा के बाद बंद कमरे में संगठन के जिम्मेदार पदाधिकारियों के साथ बैठक की पार्टी हाईकमान के निर्देशों पर चर्चा की गई। प्रत्येक लोकसभा सीट के लिए मजबूत प्रत्याशी तलाश के निर्देश दिए गए। कहा कि संगठन में ओबीसी को प्राथमिकता से जोड़ने का काम किया जाए। पिछले लोकसभा चुनाव में बसपा को मिले वोट पर भी मंथन किया गया।

Share.

About Author

Leave A Reply