Sunday, July 21

कार में मिले नकली नोटों के बंडल, मुकदमा दर्ज

Pinterest LinkedIn Tumblr +

जोधपुर 11 नवंबर। राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर राजस्थान पुलिस देर रात तक सड़कों पर जांच पड़ताल के लिए मुस्तैद दिख रही है। बावजूद इसके लोग पुलिस की नाक के नीचे से अपनी आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देते हुए नजर आ रहे हैं। ताजा मामला जोधपुर का है, जहां पुलिस ने गत दिवस कल्पतरु क्षेत्र में ट्रेवल्स ऑफिस के सामने मौजूद एक कार से 1.97 करोड़ के नकली नोटों को जब्त किया। नकली नोटों के साथ पकड़े गए आरोपी ने पुलिस पूछताछ में कहा कि उसने अपनी प्रॉपर्टी बेची थी, जिसके बदले उसे ये नकली रकम मिली।

मामले को लेकर पुलिस उपयुक्त पश्चिम गौरव यादव ने बताया कि एक कार में करोड़ों रुपए होने की सूचना मिली। जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तलाशी लेने पर कार में 1.97 करोड रुपए बरामद हुए। कार में मिले सभी नोट 500 -500 की गड्डियों में थे। उन्होंने ने बताया कि मौके से नागौर निवासी हनुमंत को हिरासत में लिया गया और नोटों की जांच की गई। जांच में सभी नोट नकली निकले, जिसके बाद रात में ही सरदारपुरा थाने में नागौर निवासी हनुमंत के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

मौके पर पकड़ में आए हनुमंत का कहना है कि नागौर के आरोपी ने बताया कि उसने एक प्रॉपर्टी डीलर को अपनी संपत्ति बेची थी, संपत्ति खरीदने वाले ने DLC रेट के अतिरिक्त राशि के तौर पर 1.97 करोड़ गुरुवार को दिए थे। उस वक्त नोटों के नकली होने का आभास नहीं हुआ लेकिन बाद में जांच करने पर 1.97 करोड़ रुपयों के नकली होने का पता लगा था। आरोपी ने आगे कहा कि नकली नोटों की जानकारी मिलने के बाद दूसरी पार्टी को इससे अवगत कराया गया, जिसके बाद से दोनों पक्षों के बीच इसे लेकर बातचीत चल रही थी।

डीसीपी पश्चिम ने बताया कि आरोपी युवक से पूछताछ के बाद 7 अन्य व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है। हिरासत में आए आरोपियों से पूछताछ के लिए सहायक पुलिस आयुक्त नरेंद्र दायमा के निर्देशन में 4 से 5 थानों के सीनियर अधिकारियों की टीम को लगाया गया है। इसके साथ ही पुलिस का कहना है कि संपत्ति के खरीदार के साथ बेचने वाला भी संदेह के दायरे में है क्योंकि संपत्ति बेचने वाले ने नकली नोट मिलने की जानकारी पुलिस को नहीं दी थी।

Share.

About Author

Leave A Reply