Saturday, February 24

राजौरी में आतंकियों से मुठभेड़ में शहीद हुए कैप्टन शुभम गुप्ता, घर में चल रही थी उनकी शादी की तैयारियां

Pinterest LinkedIn Tumblr +

आगरा 23 नवंबर। जम्मू-कश्मीर के राजौरी में बुधवार को आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में उत्तर प्रदेश के आगरा के रहने वाले कैप्टन शुभम गुप्ता शहीद हो गए। इसी सप्ताह होने घर आना था, लेकिन बुधवार को धर्मसाल के बाजीमाल इलाके में आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली और कैप्टन को अपनी टीम लेकर सर्च ऑपरेशन के लिए जाना पड़ा। इस दौरान जंगल में छिपे आतंकियों ने उन पर फायरिंग की, जिसमें कैप्टन शहीद हो गए।

जम्मू कश्मीर के राजौरी में बुधवार दोपहर से जारी आतंकियों से मुठभेड़ में सेना के दो कैप्टन समेत 4 सैन्यकर्मी शहीद हो गए. स्वजन को शाम करीब 5 बजे कैप्टन शुभम गुप्ता केशहीद होने की खबर मिलने के बाद सेना और पुलिस-प्रशासन के अधिकारी कैप्टन शुभम गुप्ता के ताजगंज के प्रतीक एन्क्लेव स्थित उनके घर पहुंचे. इस मुठभेड़ में मेजर समेत दो जवान घायल हुए. शहीद होने वालों में आगरा के कैप्टन शुभम गुप्ता भी शामिल हैं. एक तरफ उनके घरवाले शादी की तैयारियों में लगे थे, तो दूसरी तरफ उनकी शहादत की खबर से परिवार समेत पूरे गांव में मातम छा गया.
शुभम ने अपने परिवार के साथ आखिरी बार दीपावली पर वीडियो कॉल से बात की थी. वीडियो काल पर उन्होंने माता-पिता और छोटे भाई समेत परिवार के सभी लोगों से बात की। अगली छुट्टियों पर घर आने का वादा किया था. शुभम छह महीने पहले गर्मियों की छुट्टियों में अपने घर आए थे.

बता दें कि शुभम गुप्ता के पिता बसंत गुप्ता वकील हैं। ताऊ तोताराम गुप्ता सेना की मेडिकल कौर में रह चुके हैं, लेकिन उनकी मौत हो चुकी है। चाचा माता प्रसाद उत्तर प्रदेश पुलिस में इंस्पेक्टर हैं और इन दिनों गाजियाबाद में तैनात हैं। चाचा दिलीप गुप्ता COD हैं। 6 महीने पहले ही शुभम परिवार से मिलने के लिए आगरा आया था। इस बार उसने अपना जन्मदिन भी ड्यूटी पर ही मनाया, लेकिन इस हफ्ते वह घर आने वाला था कि बुधवार शाम को आगरा के DGC क्राइम बंसत गुप्ता के लिए बुरी खबर आ गई और परिवार के अरमान आंसुओं में बह गए। शुभम 10वीं करते ही आर्मी की जाने की तैयारी में जुट गया था। 29 वर्षीय शुभम ने साल 2015 में इंडियन आर्मी में जाने की ट्रेनिंग शुरू की थी। साल 2018 में उन्हें कमीशन मिल गया था।

ताजनगरी फेज वन प्रतीक एन्कलेव शुभम के भाई नितिन गुप्ता ने बताया कि कैप्टन शुभम 9 पैरा बटालियन में थे। उनका एक बड़ा भाई शिवम और एक छोटा भाई ऋषभ है। शहादत की खबर मिलते ही आगरा के सांसद प्रो. SP सिंह बघेल, फतेहपुर सीकरी के सांसद राजकुमार चाहर, विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल, विजय शिवहरे शोक संत्पत परिवार को सांत्वना देने पहुंचे। SDM सिटी अनूप कुमार सहित अन्य अधिकारी भी शुभम गुप्ता के घर मौजूद रहे। वहीं शुभम के परिवार और रिश्तेदारों में शोक की लहर है।

Share.

About Author

Leave A Reply