Thursday, June 13

सीसीएसयू का अवैध कालेज पर शिकंजा, जांच टीम ने डाला डेरा, हो सकती है बड़ी कार्रवाई

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 18 जनवरी (प्र)। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में बीते लंबे समय से छात्र नेता से लेकर प्रबंध समिति के पदाधिकरी अनियमिताओं के चलते सीसीएसयू से फर्जी दस्तावेज, दिखाकर दर्जनों कालेज चलाए जा रहे हैं। इसके चलते बीते दिनों पहले कई कालेजों द्वारा फर्जीवाड़ा करने का मामला भी प्रकाश में आया था। वहीं चर्चा हैं कि विवि द्वारा गठित जांच टीम ने ऐसे कालेजों पर शिकंजा कसने के लिए मेरठ में डेरा डाल लिया है। जल्द अवैध रूप से संचालित कालेजों पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है। इसके चलते अवैध कालेज संचालकों में हड़कंप मचा हुआ है।

बता दें कि बीते दिनों पहले सुजान बीएड कालेज के दिवंगत की पत्नी ने अपने ही बेटे पर फर्जी हस्ताक्षर एवं गलत भूमि दिखाकर कालेज को चलाने एवं करोड़ों रुपए हड़पने का मामला प्रकाश में आया था। दिवंगत प्रबंध की पत्नी ने मामले की शिकायत एनसीईआरटी से लेकर विवि प्रशासन से मामले की गहनता से जांच कर कार्रवाई की मांग की थी। इसके अलावा विवि में अध्ययनरत छात्र नेताओं ने जनवाणी की इस मुहिम की तारिफ करते हुए अन्य कई संचालित अवैध कालेजों के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए धरना प्रदर्शन कर विवि प्रशासन से कार्रवाई की मांग की थी। इसके चलते विवि प्रशासन ने दावा किया था। कि उक्त शिकायतों के चलते विवि द्वारा जांच टीम गठित कर जांच शुरू कर दी है। लेकिन, एक साल बीतने के बाद जांच अधर में अटकी हुई है। इसके ऐसे कालेजों के खिलाफ कार्रवाई एवं चिन्हित करने के लिए एक जांच टीम ने मेरठ में डेरा डाल दिया है। जल्द ऐसे कालेजों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जा सकती है।

एक जांच टीम गत दिवस मेरठ पहुंची हैं। हालांकि, उक्त टीम को लेकर विवि ने इन्कार किया है। माना जा रहा है कि पूर्व में कुछ कालेजों के खिलाफ विवि को शिकायत मिली थी। जिसकी जांच लंबे समय से अधर में अटकी हुई है। जिसकी जांच अंतिम चरण में चल रही है। जिसके चलते जल्द ऐसे कालेजों पर गाज गिर सकी है। ।

Share.

About Author

Leave A Reply