Monday, February 26

मुजफ्फरनगर में 1.20 करोड़ रुपये की चरस पकड़ी, डेंटल सर्जन निकला तस्करी गिरोह का मुखिया

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मुजफ्फरनगर 02 नवंबर। थाना शाहपुर पुलिस व एंटी नारकोटिक्स टीम मेरठ द्वारा 3 अन्तर्राज्यीय अवैध मादक पदार्थ तस्कर गिरफ्तार किए गए हैं। तस्करों के कब्जे से लगभग 1.20 करोड़ कीमत का अवैध मादक पदार्थ चरस तथा तस्करी में प्रयुक्त कार बरामद की गई है। एक डेंटल सर्जन इस तस्करी गिरोह का मुखिया निकला है।

थानाध्यक्ष आनन्द देव मिश्रा ने बताया कि एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स यूनिट मेरठ के प्रभारी योगेन्द्र सिंह एवं कस्बा पुलिस चौकी प्रभारी नितिन कुमार मंसूरपुर तिराहे पर पशु चिकित्सालय के सामने रात के समय मुखबिर की सूचना पर चेकिंग कर रहे थे कि तभी मंसूरपुर की ओर रास्ते से एक आर्टिका गाड़ी नम्बर UP-12 BF 5781 आती हुई दिखाई दी, जिसको रोककर तलाशी लेने पर गाड़ी के अंदर बैठे तीन संदिग्ध व्यक्ति की तलाशी कराई, तो उनके बेग से 10 किलो अवैध चरस बरामद हुई।

पकडे गये आरोपियों में सुमित राठी पुत्र रामशरण निवासी कमरुद्दीन नगर, व राधेश्याम पुत्र आशाराम निवासी गांव परासोली, थाना बुढ़ाना, आकाश पुत्र नरेशपाल निवासी गांव भोराकला थाना भोराकाला पकडे गए है। पूछताछ करने पर आरोपियों ने बरामद चरस कपिल पुत्र महेंद्र निवासी गांव परासोली की होनी बताई जो उत्तराखंड के जनपद चमोली में रहकर दंत चिकित्सा का कार्य करता है, जो वही से इन लोगों के माध्यम से राजधानी से लगते जनपदों को चरस की सप्लाई कराता है। आरोपितो से बरामद अवैध नशीले पदार्थ की कीमत एक करोड़ बीस लाख रुपए से अधिक बताई जा रही है। आरोपित अन्य जनपद से करोड़े के नशीले पदार्थ को मुजफ्फरनगर बागपत आदि में बेचने का कार्य करते है। गिरफ्तार अभियुक्तों को जेल भेज दिया गया है।

Share.

About Author

Leave A Reply