Monday, May 20

सोशल मीडिया पर देश की अर्थव्यवस्था हुई 4000 अरब डालर

Pinterest LinkedIn Tumblr +

नई दिल्ली 20 नवंबर। अरबपति कारोबारी गौतम अदाणी से लेकर दो केंद्रीय मंत्रियों और महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस समेत अन्य लोगों ने रविवार को भारत की जीडीपी के 4,000 अरब डॉलर (चार ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर) के आंकड़े को पार करने की सराहना की। हालांकि, इस बात की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है कि देश ने यह उपलब्धि हासिल कर ली है या नहीं।
वित्त मंत्रालय और राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने भारत की जीडीपी 4,000 अरब डॉलर के पार जाने संबंधी सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट पर तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की है। उच्च पदस्थ सूत्रों ने कहा कि वायरल पोस्ट गलत है और भारत अभी भी उस मील के पत्थर को हासिल करने से दूर है।

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के आंकड़ों के आधार पर सभी देशों के लिए लाइव ट्रैकिंग जीडीपी फीड से एक असत्यापित स्क्रीनग्रैब को सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से साझा किया गया है। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं समेत कई लोगों ने इस पोस्ट को साझा किया है। सभी देशों के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के आंकड़ों की लाइव ट्रैकिंग करना बहुत मुश्किल है, क्योंकि अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों के आंकड़े एक अंतराल के साथ उपलब्ध हैं।

अदाणी ने सोशल मीडिया प्लटेफॉर्म एक्स पर कहा, बधाई हो, भारत। वैश्विक जीडीपी के मामले में भारत 4.4 ट्रिलियन डॉलर के जापान और 4.3 ट्रिलियन डॉलर के जर्मनी को पछाड़कर तीसरा सबसे बड़ा देश बन जाएगा। तिरंगा लहराने का सिलसिला जारी! जय हिंद।
महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सहित कई राजनेताओं ने इस उपलब्धि की सराहना की। जलशक्ति मंत्रि गजेंद्र सिंह शेखावत ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नए भारत का उदय वास्तव में अद्वितीय है, क्योंकि हमारा सकल घरेलू उत्पाद चार ट्रिलियन डॉलर को पार कर गया है।

एक अन्य कैबिनेट मंत्री जी किशन रेड्डी ने एक पोस्ट में कहा, ‘पहली बार जीडीपी के 4,000 अरब डॉलर (चार ट्रिलियन) तक पहुंचने पर बधाई। पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था की ओर अग्रसर -मोदी की गारंटी।’ रेड्डी केंद्रीय संस्कृति, पर्यटन और पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्री होने के साथ-साथ तेलंगाना भाजपा के अध्यक्ष भी हैं।
महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एक्स पर लिखा, गतिशील, दूरदर्शी नेतृत्व ऐसा दिखता है। ऐसे हमारा नया भारत खूबसूरती से प्रगति कर रहा है। मेरे साथी भारतीयों को बधाई, क्योंकि हमारा देश चार ट्रिलियन डॉलर जीडीपी का मील का पत्थर पार कर गया है।

भारत ने 2023-24 की अप्रैल-जून अवधि के दौरान 7.8 फीसदी की जीडीपी वृद्धि दर्ज की, जो पिछली चार तिमाहियों में सबसे अधिक है। सेवा क्षेत्र में दोहरे अंकों के विस्तार के कारण दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था के रूप में देश ने अपनी स्थिति बरकरार रखी है। जून तिमाही में 7.8 फीसदी जीडीपी वृद्धि दर इसी अवधि के दौरान चीन द्वारा दर्ज 6.3 फीसदी से अधिक है।
अगस्त में जारी राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के आंकड़ों के मुताबिक, कृषि क्षेत्र के सकल मूल्य वर्धन (जीवीए) में 3.5 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई, जो अप्रैल-जून 2022-23 में 2.4 फीसदी थी।

Share.

About Author

Leave A Reply