Saturday, February 24

चेन्नई आर्डिनेंस डिपो में तैनात सैनिक की डिग्री निकली फर्जी

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 08 नवंबर (प्र)। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय (सीसीएसयू) में सेना के चेन्नई आर्डिनेंस डिपो में कार्यरत सैनिक की डिग्री जांच में फर्जी पाई गई। इससे पहले सोमवार को पशु चिकित्सा विज्ञान की भी एक डिग्री जांच में फर्जी मिली थी। चेन्नई आर्डिनेंस से भेजी गई 2017 की डिग्री और मार्कशीट देवेंद्र कुमार के नाम पर हैं, इन पर डीएन डिग्री कालेज का नाम अंकित है। इसी तरह दो अन्य सैनिकों की डिग्री भी सत्यापन के लिए विश्वविद्यालय पहुंची और वह भी जांच में फर्जी पाई गई। सेना से सत्यापन के लिए भेजी गई मार्कशीट व डिग्री के सत्यापन की रिपोर्ट 48 घंटे के भीतर संबंधित कार्यालयों में भेजी जाएगी। वहीं, पशु चिकित्सा विज्ञान की डिग्री की जांच आरटीआइ के तहत मांगी गई थी।

कागजात बार काउंसिल आफ इंडिया की ओर से भेजे जाते हैं। औसतन 15 से 20 मार्कशीट या डिग्री हर दिन फर्जी निकल रही हैं। विजिलेंस विभाग के इंचार्ज प्रोफेसर संजय भारद्वाज के अनुसार रिपोर्ट प्राथमिकता के आधार पर दो दिन से एक सप्ताह तक भेजी जाती है।

हस्ताक्षर और कालेज कोड से होती है प्राथमिक पहचान : सत्यापन के लिए आने वाली मार्कशीट व डिग्री की प्राथमिक पहचान कालेज कोड और संबंधित अधिकारियों के हस्ताक्षर से ही हो जाती है। उसके बाद रिकार्ड की जांच की जाती है। चेन्नई से आई मार्कशीट में रजिस्ट्रार प्रभाष द्विवेदी के हस्ताक्षर डाले गए हैं। वहीं, डिग्री में पूर्व कुलपति प्रोफेसर नरेंद्र कुमार तनेजा के हस्ताक्षर हैं। कालेज कोड में भी गड़बड़ी मिली है।

ई-मेल से भेज करा सकते हैं सत्यापन : मार्कशीट व डिग्री का सत्यापन कराने के लिए इस बाबत registrar@ ccsuniversity.ac.in और vigilance@ccsuniversity.ac.in ई-मेल से भी कागजात भेज सकते हैं।

 

Share.

About Author

Leave A Reply