Sunday, June 23

पूर्व विधायक दिलबाग सिंह के घर ईडी की रेड, 5 करोड़ रूपये, विदेशी हथियार और दारू की बोतलें बरामद

Pinterest LinkedIn Tumblr +

चंडीगढ़ 05 जनवरी। हरियाणा के यमुनानगर जिले में कथित अवैध खनन से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने बड़ा एक्शन लिया है. इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के पूर्व विधायक दिलबाग सिंह के घर पर ईडी की रेड में न केवल कुबेर का खजाना मिला है, बल्कि विदेशी हथियारों का जखीरा भी बरामद हुआ है. आईएनएलडी नेता और पूर्व विधायक दिलबाग सिंह के घर और ठिकानों पर गुरुवार से जारी रेड में ईडी यानी प्रवर्तन निदेशालय को करीब 5 करोड़ के 500 वाले करारे नोट मिले हैं. गिनती अब भी जारी है और नोट गिनते-गिनते ईडी के अफसर भी थक जा रहे हैं.

ईडी की छापेमारी में अब तक दिलबाग सिंह के ठिकानों से 5 करोड़ के कैश मिल चुके हैं और नोटों की गिनती अब भी जारी है. माना जा रहा है कि कैश का आंकड़ा और बढ़ सकता है, क्योंकि नगदी गिनने का काम चल रहा है. इतना ही नहीं, दिलबाग सिंह के ठिकानों से विदेशी हथियार और 300 जिंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं. दिलबाग सिंह और उनके सहयोगियों के परिसरों से भारत और विदेश में कई संपत्तियों सहित अवैध विदेशी निर्मित हथियार, 300 कार्तूस, 100 से अधिक शराब की बोतलें और 5 करोड़ नकद, कई किलोग्राम बुलियन बरामद किए गए हैं.

दिलबाग सिंह विधायक रह चुके हैं. 2009 में इन्होंने जीत हासिल की थी. मगर 2019 में इन्हें हार का सामना करना पड़ा था. हालांकि, इस चुनाव में वे हरियाणा के अमीर उम्मीदवारों में से एक थे. चुनाव के दौरान दिलबाग सिंह ने अपनी 34 करोड़ संपत्ति की घोषणा की थी. इनका ट्रांसपोर्ट और माइनिंग का बिजनेस है. दिलबाग सिंह कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से साल 1994 के ग्रेजुएट हैं.

कोर्ट के आदेश के बाद दर्ज हुए अवैध माइनिंग के मामलों के बाद दिलबाग समेत अन्य के खिलाफ ईडी का यह पहला बड़ा एक्शन है. यमुनानगर के पूर्व विधायक और आईएनएलडी नेता दिलबाग सिंह के घर, कार्यालय और विभिन्न ठिकानों पर भी ईडी की टीमों ने एक साथ दस्तक दी. दिलबाग सिंह और उनके संपर्क में आने वाले खनन कारोबारियों से पूछ ताछ की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक, खनन से जुड़े दस्तावेजों को भी खंगाला जा रहा है. यमुनानगर के अलावा फरीदाबाद, सोनीपत, करनाल, मोहाली और चंडीगढ़ में भी ईडी की टीमें छापेमारी कर रही है.

Share.

About Author

Leave A Reply