Sunday, June 23

ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर बना आठ लाख का नकली तार पकड़ा

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 22 अप्रैल (प्र)। ट्रॉसपोर्ट नगर में रविवार शाम स्पीड सर्व एंड नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के अधिकारियों ने पुलिस संग एक गोदाम पर मारा। यहां उन्होंने नामी कंपनियों के नाम पर तैयार नकली तार बरामद किया। कंपनी अधिकारियों ने आठ लाख का नकली तार जब्त कर आरोपित के खिलाफ थाना टीपीनगर में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है।

स्पीड सर्च एंड नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड चंडीगढ़ के ऑपरेशन मैनेजर सोमित आर्या शनिवार को एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह से मिले। उन्होंने बताया कि टीपीनगर के ट्रांसपोर्टनगर में बड़े स्तर पर ब्रांडेड कंपनी की डुप्लीकेसी का काम चल रहा है। एसपी सिटी ने सीओ ब्रह्मपुरी को निर्देश दिए। रविवार शाम कंपनी के लोग टीपीनगर थाने पहुंचे और पुलिस को साथ लेकर ट्रांसपोर्टनगर के एक गोदाम पर छापा मारा यहां मौजूद लोग भाग निकले। यहां पर आरआर केबल, हेवेल्स केबल, पोलीकैब वायर, वी गार्ड केबल के भारी संख्या में नकली पैकेजिंग बॉक्स देख टीम हैरान रह गई टीम पूरा माल समेटकर टीपीनगर थाने लेकर आ गई। छानबीन में सामने आया कि ट्रांसपोर्ट का काम करने वाले लकी तुली निवासी ज्वालानगर थाना टीपीनगर यह काम कर रहे थे।

पैकिंग फैक्ट्री के अंदर से टीम ने आरआर केबल के 63 बंडल, हेवेल्स केबल के 97 बंडल, पोलीकैब केबल के 96 बंडल, वी गार्ड कंपनी के 56 बंडल के अलावा इन कंपनियों के लगभग 400 बॉक्स जब्त किए हैं। बाजार के अनुसार, इस माल की कीमत लगभग आठ लाख रुपये से अधिक है।

सीओ ब्रह्मपुरी संतोष कुमार सिंह का कहना है कि कंपनी की डुप्लीकेसी रोकने के लिए काम करने वाली निजी कंपनी ने पुलिस से संपर्क किया था, जिसके बाद ट्रांसपोर्टनगर से यह माल बरामद हुआ है। सभी माल जब्त करते हुए कंपनी की तहरीर पर लकी तुली के खिलाफ कॉपी राइट एक्ट सहित कई धाराओं में एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

Share.

About Author

Leave A Reply