Sunday, July 21

करोड़ों की जमीन कब्जाने को कागजों में हेराफेरी

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 07 अक्टूबर (प्र)। जनपद की रजपुरा तहसील क्षेत्र में मौजूद एक खसरे की करोड़ों कीमत की जमीन कब्जाने के लिए कुछ लोगों ने लेखपाल से मिलकर कागजों में हेराफेरी कर डाली। इस मामले की शिकायत जिलाधिकारी व एसडीएम से भी करते हुए आरोपी लेखपाल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। अशोक व संदीप पुत्रगण स्व. ज्ञान प्रकाश निवासी रजपुरा द्वारा कलक्ट्रेट पहुंचकर जिलाधिकारी को दिए गए शिकायती पत्र में कहा गया है कि उनकी भूमि खसरा संख्या 264/2 रकबई 0.1260 है. मार्ग संख्या-119 के चौड़ीकरण में उनके खसरा नंबर से 65 वर्ग मी. भूमि अधिग्रहण हुई, जिसकी रिपोर्ट साल 2020 में आ चुकी है। उक्त रिपोर्ट के आधार पर 264/1 से अधिग्रहण की गयी भूमि के मुआवजे का भुगतान 17 सितंबर 2021 को हो चुका है, लेकि न जब भुगतान की फाइल एडीएम एलए के यजहां जमा की गयी तो बताया गया कि उक्त जमीन का अधिग्रहण ही नहीं हुआ है। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि इस गड़बड़ी के पीछे सारा खेल राकेश गुप्ता आदि जिनका खसरा संख्या 264 ने लेखपाल से सांठगांठ कर कराया है। अशोक व संदीप द्वारा की गयी शिकायत में कहा गया है कि लेखपाल की पहली रिपोर्ट बाद कैसे बदल दी गयी इसकी जांच करायी जाना जरूरी है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस मामले से जुडे तमाम अधिकारियों से अब तक गुहार लगा चुके हैं, लेकिन कहीं से भी राहत मिलती नजर नहीं आ रही है। उन्हें अब डीएम से ही मदद की उम्मीद है। उन्होंने इस पूरे मामले की जांच कराकर गड़बड़ी करने वालों व कराने वालों पर भी कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

Share.

About Author

Leave A Reply