Friday, March 1

मशहूर फिल्म निर्देशक गौतम हलदर का निधन

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मुंबई 04 नवंबर। सिनेमाजगत के मशहूर बंगाली फिल्म निर्माता और थिएटर व्यक्तित्व गौतम हलदर का बीते शुक्रवार को कार्डियक अरेस्ट के कारण निधन हो गया। 67 वर्ष की आयु में निर्माता ने अंतिम सांस ली। निर्देशक को सुबह उनके साल्ट लेक स्थित आवास पर सीने में दर्द की शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था। इस खबर के बाद बंगाली सिनेमा में गम का माहौल है। उनके निधन की जानकारी निर्देशक की फैमिली फ्रेंड और दोस्त चौती घोषाल ने सोशल मीडिया पर दी।

बता दें कि गौतम हलदर ने हाल ही में रवीन्द्रनाथ टैगोर के रक्त कराबी समेत करीब 80 नाटकों का निर्देशन किया था। हलदर ने 2003 में अपनी पहली बंगाली फिल्म भालो थेको बनाई थी, जिसमें अभिनेत्री विद्या बालन मुख्य भूमिका में थीं। बता दें कि गौतम हदलर ने साल 2019 में राखी गुलजार की फिल्म निर्वाण का भी निर्देशन किया था। निर्देशक के निधन से सभी दुखी हैं।

रिपोर्ट्स के अनुसार, विद्या फिल्म निर्माता को अंतिम सम्मान देने के लिए शुक्रवार शाम को कोलकाता पहुंचीं। उन्होंने कहा कि वह निर्माता के आकस्मिक निधन से दुखी हैं। अभिनेत्री विद्या बालन ने 2003 में फिल्म श्भालो थेकोश् से डेब्यू किया था, जिसमें दिग्गज अभिनेत्री राखी गुलजार ने मुख्य भूमिका निभाई थी। हलदर अक्तूबर के दूसरे सप्ताह की शुरुआत में कालीघाट और नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भी विद्या के साथ गए थे। उनकी पहली फिल्म में विद्या बालन मुख्य अभिनेत्री थीं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनके निधन पर दुख व्यक्त करते हुए एक बयान में कहा, “प्रतिष्ठित फिल्म निर्देशक और थिएटर व्यक्तित्व गौतम हलदर के निधन से दुखी हूं। उनका निधन संस्कृति जगत के लिए एक बड़ी क्षति है।” हलदर ने 1999 में सरोद वादक उस्ताद अमजद अली खान पर एक डॉक्यूमेंट्री श्स्ट्रिंग्स फॉर फ्रीडमश् भी बनाई थी।

Share.

About Author

Leave A Reply