Sunday, April 14

फार्मा कंपनी की करोड़ों की जमीन धोखाधड़ी से बेचने के आरोप में सात के खिलाफ एफआईआर

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 01 जनवरी (प्र)। मैनकाइंड फार्मा कंपनी की करोड़ों रुपए की जमीन को गलत तरीके से बेचने के मामले में परतापुर थाने में सात नामजद और 10 अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी, जान से मारने की धमकी देने समेत कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है। सीओ ब्रह्मपुरी शुचिता सिंह ने बताया कि मामले में कार्रवाई की जा रही है।

मैनकाइंड फार्मा कंपनी ओखला इंडस्ट्रीयल एस्टेट फेज-3 नई दिल्ली की परतापुर थाना क्षेत्र में दिल्ली हाईवे पर 1.5240 हेक्टेयर जमीन है। दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी ने 0.5926 हेक्टेयर जमीन आदित्य प्रकांत पुत्र राकेश कुमार, निवासी न्यू ऋषिपुरम नई बस्ती रोहटा रोड थाना कंकरखेड़ा को 21 फरवरी को बेची थी। उसके पास स्थित जमीन में से 0.3720 हेक्टेयर जमीन आदित्य प्रकांत को 28 अप्रैल को बेची गई थी।

आरोप है कि आदित्य ने बिना दाखिल खारिज कराए खुद को मालिक दिखाकर जमीन में प्लाटिंग कर दी। आदित्य प्रकांश ने अपने भाई रमन चौधरी, पिता राकेश कुमार, ममेरे भाई सौरभ व आशुतोष, सुपरवाइजर नितिन कुमार से आपराधिक षड्यंत्र कर एक अवैध लेआउट रमन एन्क्लेव के नाम से तैयार करा लिया। लेआउट में कंपनी के खसरा नंबर 1034 की भूमि को भी शामिल कर लिया। इसमें प्लाट नंबर ए-6 के विक्रय पत्र 23 फरवरी के माध्यम से खसरा संख्या-1028 दिखाकर बेच दिया, जबकि लेआउट में प्लाट नंबर-ए-6, खसरा संख्या 1034 की भूमि में है।

आरोप है कि इस मामले में दीपक कुमार, आदित्य प्रकांत, रमन चौधरी, सौरभ, आशुतोष, सुपरवाइजर नितिन कुमार, राकेश कुमार एवं 8-10 अज्ञात लोग चार फरवरी को हथियार लेकर जमीन पर पहुंचे और गार्ड को कमरे में बंद कर निर्माण शुरू कर दिया। सीओ शुचिता सिंह ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है, कार्रवाई की जाएगी।

Share.

About Author

Leave A Reply