Saturday, February 24

बी पॉकेट की रोड़ पर लगा गेट शीलकुंज निवासी है खुश, सरकारी रास्ता कोई बंद नहीं कर सकता

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 13 फरवरी (प्रमुख संवाददाता)। दीवार तोड़कर कानूनी तरीके से गेट लगाने की प्रक्रिया पूरी की गई है। शांतिपूर्ण कार्य किया गया है। उक्त शब्द शीलकुंज कालोनी के मैनेजर जेएस सिंह द्वारा कहे गये। बताते चले कि पल्लवपुरम फेस 1 में बी पॉकेट वाली रोड़ पर शीलकुंज के कुछ पुराने और बुजुर्ग निवासियों के अनुसार यहां पिछले कई वर्षों से गेट लगा था और टूटी दीवार से लोग आते जाते थे। फिर पिछले दिनों दीवार लगाकर गेट बंद कर दिया गया जो गलत था। क्योंकि आवागमन काफी घूमकर पूरा करना पड़ रहा था। गेट लगने से शीलकुंजवासी खुश है। और फिर इनका कहना है कि नियम अनुसार गेट लगा है तो अब क्षेत्रीय पुलिस को चाहिए कि किसी को भी अदालत में जब तक मामला न निपटे यहां छेड़छाड़ न करने दे। क्योंकि पल्लवपुरम कोई प्राईवेट कालोनी नहीं है एमडीए द्वारा बसाई गई है और सरकारी सड़क पर सभी को आने जाने का पूर्ण अधिकार प्राप्त होता है। यह बात सबको समझ लेनी चाहिए ऐसा कानून के जानकार कुछ नागरिकों का भी कहना है।

जबकि यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है। उच्चाधिकारियों से शिकायत की जाएगी। दीवार तोड़कर गेट लगाने की प्रक्रिया पूरी तरह कानूनी तरीके से की गई है। शांतिपूर्ण कार्य किया गया है। कालोनी वालों ने जो भी आरोप लगाए हैं, वह बेबुनियाद हैं।
-जेएस सिंह, मैनेजर, शीलकुंज कालोनी बिल्डर

बी-पाकेट के लोगों ने सूचना बाद में दी थी। मैं मौके पर गया था। मामला कोर्ट में बताया गया है। फिलहाल मौके पर पुलिस कर्मी तैनात हैं। तहरीर देते हैं तो दीवार तोड़ने वालों पर केस दर्ज किया जाएगा। -जयप्रकाश यादव, इंस्पेक्टर पल्लवपुरम

Share.

About Author

Leave A Reply