Tuesday, May 28

खुलासा: मेरठ में तार चोरी करने वाले गैंग के 4 चोरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 13 फरवरी (प्र)। मेरठ में परतापुर पुलिस ने शातिर चोरों के गैंग को पकड़ने के बाद मोहिउद्दीनपुर स्थित डीएफसी रेलवे ट्रैक से ओएचई का तार चोरी का खुलासा किया है। पुलिस ने चार शातिर चोरों को गिरफ्तार करते हुए चोरों के पास से चोरी किया हुआ तार और एक ब्रेजा कार भी बरामद की है। पुलिस चोरों की गैंग पर गैंगस्टर और एनएसए की कार्यवाही करेगी। जिससे आगे से इस प्रकार की चोरियों पर अंकुश लगाया जा सके।

डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर पर बुलंदशहर से मुजफ्फरनगर तक लगातार चोरी की वारदात हो रही थी। कुछ दिन पहले परतापुर में डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर पर चोरी को एक गैंग ने अंजाम दिया। परतापुर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया । सर्विलांस टीम को जिम्मेदारी दी गई थी। गिरोह के चार बदमाशों को दिल्ली से सोमवार को गिरफ्तार किया है। बदमाश की पहचान आमिर निवासी कुरावली मैनपुरी (वर्तमान निवासी कालंदीकुंज दिल्ली), अजीम गाजियाबाद, जुनैद निवासी दिल्ली और मोहम्मद करीब निवासी शाहिनबाग दिल्ली के रूप में हुई है। गिरोह के दो बदमाश फरार हैं। खुलासा हुआ कि गिरोह के सभी छह बदमाश डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर पर लगी मशीनों और 25 केवीए का कॉपर का तार चोरी करते थे। परतापुर से करीब 220 किलो कॉपर तार चोरी किया गया था। इसके बाद आरोपी इस माल को दिल्ली में कबाड़ी शहनवाज को बेचते थे। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर काफी माल बरामद कर लिया है।

एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया गिरोह पर रासुका लगाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। गिरोह पर गैंगस्टर भी लगाई जाएगी। गैंग के पास से एक मारूति ब्रेजा कार, एक पिकअप, 11 मीटर कैटनरी तार और नौ मीटर टैक्ट वायर बरामद किया है।

ये आरोपी फरार
1. उस्मान
2. शोएब

पहले से जेल में है शहनवाज
दिल्ली पुलिस ने सप्ताह भर पहले शहनवाज को गिरफ्तार किया है। शहनवाज बाकी लोगों से चोरी का माल खरीदता है, जिसकी शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था और वर्तमान में आरोपी जेल में है आरोपी को मेरठ पुलिस मेरठ के मुकदमे में रिमांड पर लेकर आएगी।

बुलंदशहर और अलीगढ़ का भी गैंग एक्टिव
पुलिस ने खुलासा किया कि डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर पर चोरी करने में दिल्ली के गैंग के अलावा बुलंदशहर और अलीगढ़ का गैंग भी एक्टिव है। दिल्ली वाले गैंग के चार बदमाशों की गिरफ्तारी हुई है। बाकी की तलाश की जा रही है।

Share.

About Author

Leave A Reply