Saturday, June 22

होम्योपैथिक चिकित्सक डा. शशिकांत शर्मा को हैनिमैन रत्न अवार्ड

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 06 फरवरी (प्र)। मशहूर होम्योपैथिक चिकित्सक डा. शशिकांत शर्मा को हैनिमैन रत्न अवार्ड से सम्मानित किया गया। यह अवार्ड उन्हें बिजनौर में आयोजित नेशनल होम्योपैथी कान्फ्रेंस में दिया गया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि होम्योपैथी में हर गंभीर बीमारी का जड़ से इलाज संभव है।

होम्योपैथी बीमारी को सिर्फ दबाती नहीं है बल्कि पूर्ण रूप से ठीक करती है। इसी वजह से आज लोगों का विश्वास होम्योपैथी पर बढ़ता जा रहा है। कहा कि जहां पहले यह माना जा रहा था कि होम्योपैथी धीरे धीरे असर करती है वहीं आज एडवांस होम्योपैथी द्वारा हर गंभीर मर्ज का इलाज करने में संभव है। यहां तक कि गठिया जैसे रोगों में सभी तरह के जोड़ों के दर्द से होम्योपैथी पूर्ण रूप से इलाज करती है और मरीज को खतरनाक पेन किलर से निजात दिलाती है।

होम्योपैथी बीमारी को दबाती नहीं बल्कि जड़ से ठीक करती है मरीज को प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत कर बीमारियों से छुटकारा मिल दिलाती है। यह मरीज के पूरे इम्यून सिस्टम को मजबूत करती है यही कारण है को होम्योपैथी में हर बीमारी का और मरीज का इलाज संभव है। इसी के चलते अधिकांश लोगों का रुझान होम्योपैथी की तरफ बढ़ा है। यहां तक कि होम्योपैथी में ऑपरेशन को भी टाला जा सकता है कई बीमारियां जैसे कि बवासीर साइनस गुर्दे की पथरी विभिन्न प्रकार की गांठे टॉन्सिल जिनमें ऑपरेशन की आवश्यकता पड़ती है इन्हें बिना ऑपरेशन के होम्योपैथी द्वारा जड़ से ठीक किया जा सकता है।

Share.

About Author

Leave A Reply