Friday, March 1

दिल्ली-दून हाईवे पर 90 की गति से तेज दौड़ाया वाहन तो चालान पक्का

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 27 दिसंबर (प्र)। देहरादून-दिल्ली हाईवे को भी गति सीमा में बांध दिया गया है। चार पहिया वाहनों को 90 की गति से ज्यादा चालान कटना तय मानिए। एनएचएआइ की तरफ से हाईवे पर आइटी पार्क के सामने स्पीडोमीटर (रडार) लगा दिया गया है। वह सिर्फ एक साइड ही लगाया गया है। क्योंकि दिल्ली जाने वाले वाहनों की गति को जाम ही धीमी कर देता है। सिर्फ हरिद्वार और देहरादून जाने वाले वाहनों की गति सीमा तेज होती है। तेजगति की वजह से यहां कई हादसे भी हो चुके हैं।

हरिद्वार या देहरादून जाने वाले वाहनों की गति एक्सप्रेसवे से उतरने के बाद भी कम नहीं हो पाती। जबकि एक्सप्रेसवे की गति सीमा चार पहिया वाहनों के लिए 100 है और हाईवे पर 90 निर्धारित है। लेकिन वाहन स्वामी यहां भी सौ की स्पीड से ही चलते हैं। जिसकी वजह से दिल्ली हाईवे पर कई हादसे हो चुके हैं। ऐसे में सुभारती मेडिकल कालेज से परतापुर की तरफ आइटी पार्क के सामने हाईवे पर स्पीडोमीटर लगा दिया है। मंगलवार सुबह से ही स्पीडोमीटर लगाने का काम शुरू कर दिया था जो दोपहर तीन बजे तक चला एसपी यतयत राघवेंद्र मिश्रा ने बताया कि हाईवे पर स्पीडोमीटर से तेजगति से चलने वाले वाहनों का चालान हो जाएगा। मंगलवार से ही यह व्यवस्था सुचारू कर दी गई है। पहले ही दिन सात वाहनों के चालान किए गए।

शराब पीकर वाहन चालने पर छह का चालान
शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ अभियान के तहत मंगलवार को आठ जगहो पर चैकिंग की गई। ट्रैफिक व थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से बेगमपुल तेजगढ़ी चौराहा काली नदी, एल ब्लाक साकेत चौराहा सरधना व परतापुर फ्लाईओवर के नीचे चैकिंग की कुल 85 वाहन चालकों को चेक कर छह वाहन चालको का चालान किया और 60 हजार रुपये का जुर्माना लगाया। वहीं, दिन में ट्रैफिक पुलिस ने बिना रजिस्ट्रेशन के चल रहे 38 ई-रिक्शा सीज किए।

Share.

About Author

Leave A Reply