Friday, April 19

हाईकोर्ट की निगरानी में हो पेपर लीक प्रकरण की जांच : आप

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 26 फरवरी (प्र)। आम आदमी पार्टी मेरठ जिला अध्यक्ष अंकुश चौधरी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने जिलाधिकारी मेरठ के माध्यम से राज्यपाल महोदय के नाम ज्ञापन दिया।

जिला अध्यक्ष अंकुश चौधरी ने कहा प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाक के नीचे यूपी पुलिस भर्ती – समीक्षा अधिकारी परीक्षा में हुए पेपर लीक हो गए। यूपी में बेरोजगारी दर निरंतर बढ़ती जा रहीं हैं, तो वहीँ दूसरी ओर बमुश्किल निकल रहीं भर्तीओं के परीक्षाओं के पेपर भी लीक हों जाते हैं, साथ ही नकल माफिया भी सक्रिय हों जाते हैं।

ताजा मामला यूपी पुलिस भर्ती का हैं। 17 और 18 फरवरी को हुए भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हों गया और कड़ी मेहनत कर परीक्षा की तैयारी करने वाले लाखों परीक्षार्थियों के मेहनत पर पानी फिर जाता हैं। लखनऊ सहित पूरे प्रदेश में युवाओं के जोरदार विरोध – प्रदर्शन के दबाव में सरकार परीक्षा रद्द करती हैं। इसलिए सवाल उठना वाजिब हैं कि सरकार के लापरवाही या भ्रष्टाचार के कारण लगातार पेपर लीक हों रहें हैं और प्रतिभाओं के साथ अन्याय हों रहा हैं। इस प्रकार के आपराधिक कृत्य की जिम्मेदारी ठहराया जाना नितांत आवश्यक हैं।
आम आदमी पार्टी मांग करती हैं तत्काल यूपी पुलिस भर्ती और समीक्षा अधिकारी परीक्षा पेपर लीक की हाई कोर्ट की निगरानी में जांच कराई जाए। पेपर लीक करने वाले सभी दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। यू पी पुलिस भर्ती की परीक्षा को 01 माह के भीतर कराया जाए। प्रदेश सरकार सुनिश्चित करें कि भविष्य में कोई पेपर लीक ना हों।

प्रतिनिधि मंडल में जिलाध्यक्ष अंकुश चौधरी, जिला मीडिया प्रभारी हर्ष वशिष्ठ, जिला उपाध्यक्ष मनोज शर्मा, जिला उपाध्यक्ष देशवीर सिंह, सोशल मीडिया प्रभारी हेम कुमार, जिला कोषाध्यक्ष रियाजुद्दीन, जिलाध्यक्ष किसान प्रकोष्ठ फुरकान त्यागी, जिला सचिव वैभव मलिक, जिला कार्यकारिणी सदस्य गजेन्द्र, कैंट विधानसभा अध्यक्ष भरत लाल यादव, महानगर उपाध्यक्ष बंटी जाटव, महानगर उपाध्यक्ष अशफाक, महानगर सचिव युनूस, कैंट विधानसभा महासचिव विनय, जसबीर सिंह, अलाउद्दीन, नदीम, माइनारिटी विंग प्रदेश उपाध्यक्ष गुरमिंदर सिंह मोजूद रहे।

Share.

About Author

Leave A Reply