Saturday, July 20

सड़क पर नहीं जनपद में 19 ईदगाह और मस्जिदों में होगी नमाज

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 12 जून (प्र)। ईद-उल- अजहा को लेकर पुलिस लाइन स्थित सभागार में मंगलवार को एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह और एडीएम सिटी बृजेश सिंह के नेतृत्व में मुस्लिम समाज के मुख्य लोगों की बैठक आयोजित की गई। इसमें अफसरों ने स्पष्ट किया कि ईदगाह समेत कहीं भी सड़क पर नमाज अदा नहीं होगी। अफसरों ने साफ कहा कि जनपद की 19 ईदगाह और मस्जिदों में नमाज अदा कराई जाएगी। शहर काजी ने ईदगाह से गंदगी हटाने और वहां पानी की व्यवस्था करने की मांग की। एसपी सिटी ने स्पष्ट किया कि ईदगाह के बाहर अर्धसैनिक बल और कई थानों का पुलिस बल लगाया जाएगा। ईदगाह भरने के बाद किसी को वहां तक नहीं जाने दिया जाएगा।

बैठक में शहर काजी जैनुस साजिदीन और कई मस्जिदों के मुतव्वली मौजूद रहे। सभी को बताया गया कि सड़क पर नमाज और खुले में कुर्बानी नहीं होने दी जाएगी। प्रतिबंधित पशुओं का कटान भी नहीं होगा। बताया गया कि जनपद में 19 ईदगाह हैं, सभी में नमाज अदा कराई जाए। उसके बाद भी अगर भीड़ ज्यादा है, तब मस्जिदों में नमाज अदा कराई जाए। एसपी सिटी के मुताबिक, शहर काजी ने भरोसा दिलाया कि सड़क पर नमाज अदा नहीं होगी। शहर काजी ने मांग उठाई।
19 ईदगाह पर प्रशासन साफ- सफाई और पानी की व्यवस्था करे। उसके बाद ही नमाज उक्त ईदगाह में अदा हो सकेगी। प्रशासन ने सभी ईदगाह में साफ-सफाई का भरोसा दिलाया। साथ ही कंकरखेड़ा में पावली खुर्द स्थित ईदगाह में भी व्यवस्था बनाने की मांग की गई।

15 लोगों को जारी हुए नोटिस
एसपी सिटी ने बताया कि ईद-उल- फितर के मौके पर सड़क पर नमाज अदा करने वाले 200 नमाजियों पर मुकदमा दर्ज हुआ था। 15 को थाने से 41ए का नोटिस भेज दिया, जबकि अन्य की पहचान के लिए पुलिस की टीम लगा दी गई है। साथ ही एक टीम ऐसी बनाई है, जो उक्त वीडियो के आधार पर ईदगाह पर नमाज के दौरान सड़क पर नमाज करने वालों की पहचान करेगी।

सड़क पर नमाज अदा करने पर होगी एफआइआर
एसपी सिटी ने बताया कि सड़क पर नमाज अदा करने वालों का पुलिस की टीम वीडियो बनाएगी। साथ ही तत्काल मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। पुराने मुकदमे में भी पुलिस जल्द ही चार्जशीट फाइल करने जा रही है।

शहर काजी जैनुस साजिदीन ने कहा कि नमाज अदा कराने का प्रस्ताव प्रशासन ने ही दिया था। उन्होंने ही साफ सफाई और पानी की व्यवस्था के बारे में भी कहा था। हम किसी से भी यह नहीं कह रहे कि सड़क पर नमाज अदा करें, या फिर नमाज न पढे । हम ये कहते है कि हमारी परंपरा के अनुसार ही नमाज अदा कराई जाए।

शहर काजी ने मांगी ईदगाह के बाहर सड़क पर नमाज की अनुमति
मेरठ शहर काजी जैनुस साजिदीन ने ईद-उल-अजहा पर दिल्ली रोड स्थित शाही ईदगाह के बाहर सड़क पर नमाज अदा करने की अनुमति मांगी है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव को पत्र लिखा है। शहर काजी ने बताया कि अन्य धर्मों के पर्वों पर सड़कों पर जुलूस और शोभायात्रा निकाली जाती हैं और आयोजन होते हैं। इसी तरह बकरीद के अवसर पर शाही ईदगाह के भर जाने पर अकीदतमंदों को सड़कों पर नमाज अदा करने की छूट दी जाए। शहर काजी ने कहा कि नमाज आधा घंटा तक होती है। बताया कि उन्होंने इस तरह का पत्र पूर्व में राष्ट्रपति को भी लिखा था, जिसका जवाब आया है। उसमें संबंधित अधिकारियों को उचित निर्णय लेने के निर्देश दिए गए हैं। नौचंदी बाले मियां की मजार पर बकरीद की नमाज 17 जून को सुबह सात बजे होगी। कमेटी की बैठक में यह निर्णय लिया गया। अध्यक्षता करते हुए इकराम अंसारी ने 16 से 20 जून तक मजार के आसपास के क्षेत्र में विशेष सफाई अभियान चलाने की मांग की। नौचंदी मेले में कव्वाली मुकाबला, मुशायरा आदि कार्यक्रम कराने की रूपरेखा तय की गई। शहजाद अंसारी, रिहान, साजिद अली, मुफ्ती मोहम्मद अशरफ, ताहिर अब्बासी, नदीम खां मौजूद रहे।

Share.

About Author

Leave A Reply