Sunday, April 14

मोदी को कट्टर देशभक्त-राष्ट्रवादी मानते थे प्रणब

Pinterest LinkedIn Tumblr +

नई दिल्ली 07 दिसंबर। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की राय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास शासन चलाने की बेहतरीन कला थी. मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा ने अपने पिता के बारे में अपनी किताब में इस पर विस्तार से लिखा है. उन्होंने अपने पिता की डायरी के हवाले से लिखा है कि उनके पिता प्रणब मुखर्जी पीएम मोदी के बारे में लिखते हैं – ” पीएम मोदी की सोच बहुत साफ है और वे शासन चलाने की कला में बहुत ही प्रोफेशनल है.पीएम मोदी जनता की नब्ज को बहुत की कायदे से समझते हैं. इसके अलावा मोदी सीखना चाहते हैं. खुद को सब कुछ जानने वाला नहीं मानते.”

शर्मिष्ठा ने अपनी किताब पिता से हुई बातचीत और उनकी डायरी में मिले नोट्स के आधार पर लिखी है. किताब के मुताबिक एक डायरी में प्रणब मुखर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी से राष्ट्रपति के तौर पर हुई अपनी मुलाकात का जिक्र किया है. मुलाकात के बारे में प्रणब मुखर्जी लिखते हैं – “हमारे बीच बहुत सारे मसलों पर बातचीत हुई. पीएम मोदी ने कहा कि वे मेरी सलाह को बहुत महत्व देते हैं. मैंने उनसे कहा कि उन्हें मेरा पूरा सहयोग मिलेगा. ये पूरी तरह साफ है कि उनके विचार बहुत साफ हैं और शासन करने में पूरी तरह प्रोफेशनल हैं. जनता की नब्ज को वे बहुत अच्छे से समझते हैं. उस पर उनकी कड़ी पकड़ है. वे खुद को सबकुछ जानने वाला नहीं मानते और सीखने को तैयार रहते हैं. आरएसएस के होने के कारण वे प्रचंड देशभक्त और राष्ट्रवादी हैं. ” खास बात ये है कि मुखर्जी ने ये सारी बाते प्वांट्स बना कर लिखी हैं.

शर्मिष्ठा की ये किताब रूपा प्रकाशन से छपी है. बताया जा रहा है कि ये पुस्तक जल्द ही बाजार में उपलब्ध होगी. पुस्तक का शीर्षक है – इन प्रणब माई फादर- ए डॉटर्स रिमेंबर्स. पुस्तक की समाग्री जुटाने के लिए शर्मिष्ठा ने शोध भी किया है. यही वो पुस्तक है, जिसमें शर्मिष्ठा ने ये उजागर किया है कि सोनिया गांधी उन्हें कत्तई प्रधानमंत्री नहीं बनाएंगी दरअसल, जब संसदीय दल का नेता चुन लिए जाने के बाद सोनिया गांधी ने इनकार कर दिया था तब प्रधानमंत्री पद के लिए उम्मीदवारों की खोज हो रही थी. उस वक्त दो नामों पर कयासबाजी चल रही थी. एक मनमोहन सिंह का नाम था और दूसरा नाम प्रणब मुखर्जी का था. इस पर शर्मिष्ठा ने अपने पिता से पूछा था कि क्या वे प्रधानमंत्री बन रहे हैं, इसके जवाब में प्रणब मुखर्जी ने कहा था कि नहीं, सोनिया गांधी उन्हें प्रधानमंत्री नहीं बनाएंगी.

Share.

About Author

Leave A Reply