Saturday, July 13

बिहार में राजद नेता की गोली मारकर हत्या, आक्रोशित लोगों ने की सड़क जाम

Pinterest LinkedIn Tumblr +

हाजीपुर 08 दिसंबर। बिहार से लगातार आपराधिक घटनाओं के मामले सामने आ रहे हैं। वहीं, इस बार वैशाली जिले में अपराधियों का तांडव देखने को मिला है जहां, देर रात बेखौफ बदमाशों ने कार से अपने घर लौट रहे राजद नेता सह पूर्व उप मुखिया मैनेजर सहनी की गोली मारकर हत्या कर दी है।

यह मामला महेश्वर थाना के मरोइ चौकी का है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए हाजीपुर सदर अस्पताल भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपते ही आक्रोशित समर्थन एवं परिजनों ने महुआ ताजपुर पथ को जाम कर दिया। इसके बाद पुलिस प्रशासन के आश्वासन और अपराधी की पहचान कर लिए जाने के दावों के बाद सड़क से जाम हटाया गया। इस दौरान लगभग 4 घंटे से ज्यादा समय तक सड़क को जाम रही।

बताया जाता है कि मैनेजर सहनी अपने किसी रिश्तेदार महिला को अपनी कार से गुरुवार के देर रात किसी रिश्तेदार को पहुंचाने जा रहे थे। इसी दौरान बहुआरा हरिप्रसाद मरूई चौक के निकट एक बाइक पर सवार तो बदमाशों ने उन्हें कर रोकने का इशारा किया।
मैनेजर सहनी जैसे ही कार रोकी बदमाशों ने उन पर गोलियां चला दी। मैनेजर सहनी को सीने में तीन गोली मारी गई है। घायल अवस्था में आनन-फानन में इलाज के लिए उन्हें पटना ले जाया जा रहा था। इसी दौरान जंदाहा में उनकी मौत हो गई।

घटना की जानकारी मिलते ही परिवार वालों में कोहराम मच गया। स्थानीय थाना की पुलिस मौके पर पहुंची। शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल हाजीपुर भेजा गया।
वहीं पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने शुक्रवार की सुबह महुआ ताजपुर रोड को बहुआरा के निकट रोड पर शव रखकर जाम कर दिया।

आक्रोशित लोग हत्यारों की गिरफ्तारी एवं प्रीत परिवार को न्याय दिलाने की मांग पुलिस प्रशासन से कर रहे हैं। इस दौरान कई किलोमीटर तक पूरा यातायात बाधित हो गया।
इस दौरान महिसौर थाना एवं पातेपुर थाना के पुलिस पदाधिकारी पुलिस बल के साथ जाम स्थल पर पहुंचकर जाम हटाने का प्रयास कर रहे हैं। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना में संलिप्त बदमाशों की पहचान कर ली गई है। जिसकी गिरफ्तारी हेतु लगातार छापेमारी की जा रही है।

Share.

About Author

Leave A Reply