Sunday, June 23

जैन मंदिर निर्माण को लेकर दो पक्षों में जमकर चले लात-घूसे, दर्जन से अधिक घायल

Pinterest LinkedIn Tumblr +

सरधना 05 जनवरी (प्र)। कस्बे के पांडुशिला रोड पर गुरुवार को जैन समाज के लोग भारी संख्या में जेसीबी व पानी निकालने के लिए पंप मशीन लेकर पहुंचे। जहां पाल समाज के लोगों ने विरोध किया। बताया कि यह तालाब की जमीन है। इसके बाद दोनों पक्ष आपसे में आरोप-प्रत्यारोप लगाते हुए भिड़ गए। वहीं, सूचना पर पुलिस पहुंच गई और थोड़ी देर बाद पुलिस की मौजूदगी में पथराव दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पथराव शुरू कर दिया। जिसमें दोनों पक्षों से कई लोग घायल हो गए। साथ ही जेसीबी का भी शीशा टूट गया।

उधर, सूचना पर एसडीएम, सीओ सहित भारी संख्या में पुलिस बल पहुंच गया और कड़ी मशक्कत कर स्थिति को कैसे-तैसे नियंत्रण में किया। लेकिन, जैन समाज और पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की घंटों नोकझोंक हुई। वहीं, एसडीएम ने स्पष्ट किया कि यह सरकारी जमीन नपा की है। जिस पर तालाब है। उधर, घंटों बाद मामले को भांपते हुए सरूरपुर व रोहटा पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।
पांडुशिला रोड पर करोड़ों रुपये की जमीन है। जहां पर पालिका के अधिकारियों के अनुसार तालाब है। गुरुवार को जैन समाज के लोग मंदिर का निर्माण कार्य शुरू करने के लिए जेसीबी व जमीन से पानी निकालने के लिए पंपिंग मशीन लेकर पहुंचे।

बताते चले कि जैन समाज और पाल समाज में पिछले तीन वर्षों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा है।

पंकज जैन ने आरोप लगाते हुए बताया कि पाल समाज के लोग उन्हे किसी बहाने से अपने घर पर ले गए और मारपीट कर जान से मारने का प्रयास किया। इस पर उनके ड्राइवर ने उन्हे कैसे-तैसे बचाया और वह जान बचाकर बाहर आ गए। हंगामे की सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इसके बाद पाल समाज के कुछ लोगों ने नीचे और छत से पथराव कर दिया। जिसमें पंकज जैन, राजीव जैन, हिमांशु जैन, अभिषेक जैन सहित अन्य लोग मामूली घायल हो गए।

पाल समाज के लोगों ने आरोप लगाते हुए बताया कि जैन समाज के लोग तालाब की जमीन पर कब्जा कर मंदिर का निर्माण करना चाहते हैं। जब जेसीबी के आगे खड़े होकर विरोध जताया। साथ ही कहा कि फांवड़े से ही नींव की खोदाई का कार्य शुरू करें। क्योंकि, उनके घर की दीवार में दरारे आ जाएगी। इस पर जैन समाज के लोगों ने पथराव कर दिया। जिसमें सतेंद्री पति राजेश, सतोष पति जयपाल व उसका बेटा परवेश, मांगे, शर्मा पति टिटूपाल, लता पति जयकुमार घायल हो गए। इसके बाद सूचना पर इंस्पेक्टर प्रताप सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। कुछ देर बाद संजय कुमार जायसवाल, एसडीएम पंकज प्रकाश राठौर भी पहुंच गए और दोनों पक्षों के लोगों को कैसे-तैसे शांत किया। इसके बाद पुलिस ने पाल समाज के कई लोगों को हिरासत में ले लिया।

जैन समाज के पंकज जैन सहित अन्य लोगों ने पुलिस-प्रशासन को चेतावनी दी। यदि आरोपितों की गिरफ्तार कर कार्रवाई नहीं हुई तो वह बाजार बंद अशोक की लाट के पास धरने पर बैठ जाएंगे। इस पर पुलिस ने जैन समाज के लोगों को समझाबुझाकर शांत कर दिया।

Share.

About Author

Leave A Reply