Saturday, July 13

सीएम के सामने महायोजना 2031 का प्रजेंटेशन होगा

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 29 दिसंबर (प्र)। रैपिड सिटी के सुनियोजित विकास के लिए तैयार की गई मेरठ महायोजना 2031 का जल्द सीएम योगी आदित्यनाथ के सामने प्रजेंटेशन दिया जाएगा। सीएम की मुहर लगने के बाद महायोजना पास होगी। इसके बाद शहर का विकास फर्राटा भरने लगेगा। लोग जिला पंचायत और मेरठ विकास प्राधिकरण (मेडा) के बीच अटके हैं। मेडा अधिकारियों का कहना है कि जनवरी 2024 में महायोजना को मुख्यमंत्री के सामने प्रदर्शित कर दिया जाएगा। जल्द ही सीएम कार्यालय से समय मिल जाएगा।

दो साल की देरी से चल रही मेरठ महायोजना 2031 को मेरठ विकास प्राधिकरण के बोर्ड ने गत 17 अगस्त को हुई 124 वीं बोर्ड बैठक में पास कर दिया था। मेरठ महायोजना 2021 के मुकाबले दोगुने आकार की महायोजना 2031 को अब पास कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष रखा जाएगा। मेडा वीसी अभिषेक पांडेय ने बताया कि महायोजना 2031 को हरी झंडी दिलाने के लिए जल्द मुख्यमंत्री के सामने प्रजेंटेशन दिया जाएगा। शहरी विकास विभाग कमेटी के सामने महायोजना का प्रजेंटेशन पहले ही हो चुका है।

महायोजना 2031 की विशेषताएं
■ महायोजना का आकार 1043 वर्ग किलोमीटर, 9 नगर और 305 गांव शामिल
■ आवासीय क्षेत्र 50 फीसदी और कॉमर्शियल क्षेत्र 96 फीसदी बढ़ा
■ यूपी ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट के 500 एमओयू में से 82 निवेश प्रस्ताव मैप पर इंगित हुए
■ लैंडयूज कंवर्जन फीस लगेगी महुआ गाइडलाइन को लागू किया जाएगा
■ मुजफ्फनगर सैनी व फिटकरी गांव में इंडस्ट्रियल कलस्टर पास 1500 से 2000 करोड़ का निवेश धरातल पर उतरेगा
■ रैपिड रेल की टीओडी नीति में मिक्स लैंड यूज का प्रावधान किया
■ 3200 हेक्टेयर भूमि में मिक्स लैंडयूज का प्रावधान
■ 617 आपत्तियों और सुझावों के निस्तारण के बाद बनी महायोजना
■ नगरीय कृषि भूमि को ख़त्म किया
■ एनएचएआई द्वारा रिंग रोड बनाए जाने पर 2021 में प्रस्तावित रिंग रोड खत्म
■ सघन बाजारों को महायोजना मैप में इंगित किया

Share.

About Author

Leave A Reply