Tuesday, May 28

मेरठ में बही सबसे खराब हवा, एयर गुणवत्ता सूचकांक 328 पहुंचा

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 24 अक्टूबर (प्र)। सप्ताहभर से जिले की बिगड़ी हवा सोमवार को देश में सर्वाधिक प्रदूषित साबित हुई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से सोमवार को जारी 229 शहरों की रिपोर्ट में मेरठ का वायु गुणवत्ता सूचकांक सर्वाधिक 328 दर्ज किया गया। दिल्ली में एक्यूआइ 263 अंकों के साथ अपेक्षाकृत सुधरा मिला।

सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि विश्वविद्यालय के मौसम केंद्र प्रभारी डा. यूपी शाही ने बताया कि तापमान में गिरावट से नमी बढ़ने और हवा की गति कम होने से प्रदूषित कण हवा की निचली सतह में पहुंच गए हैं जिससे हवा की गुणवत्ता बिगड़ी है।
एनसीआर में ग्रैप स्टेज टू लागू होने के बावजूद औद्योगिक और निर्माण इकाइयों पर नियंत्रण नहीं किया जा सका। शुक्रवार को एक्यूआइ 157 था। सोमवार को यह 328 हो गया। दिल्ली में प्रदूषण पिछले दिन 313 से गिरकर 263 तक पहुंच गया।
क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी भुवन प्रकाश ने बताया कि 21 अक्टूबर की शाम से पूरे एनसीआर में ग्रैप की स्टेज टू लागू है। कृषि अवशेष जलाने और धूल उड़ाने पर प्रतिबंध है।

मेडिकल कालेज के मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर डा. अरविंद ने बताया कि वायु प्रदूषण गला, फेफड़ा और आंख के लिए ही नहीं बल्कि दिमाग और मेटाबोलिज्म को भी बिगाड़ सकती है। बच्चों, बुजुर्गों एवं गर्भवती को प्रदूषित कणों के संपर्क में आने से विशेष रूप से बचना चाहिए।
पश्चिम विक्षोभ के चलते मौसम में बदलाव आया है। आगामी दिनों में सुबह समय धुंध छाए रहने की आशंका है। सोमवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 16.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

Share.

About Author

Leave A Reply