Thursday, June 13

परतापुर में 72 सीटर उड़ान को मंजूरी, सर्वे रिपोर्ट के बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी ने दी स्वीकृति

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 12 अक्टूबर (प्र)। परतापुर में नई हवाई पट्टी बनाकर 72 सीटर विमान उड़ाने की राह खुल गई है। एयरपोर्ट अथॉरिटी और डीजीसीए ने सर्वे रिपोर्ट के आधार पर इसे मंजूरी दे दी है। इसकी रिपोर्ट अपर मुख्य सचिव एसपी गोयल को भेज दी है। इसके अलावा दूसरे चरण में बड़े विमान उड़ाने के लिए हवाई पट्टी के विस्तार को भी मंजूरी दी है। इसके लिए शासन से 300 एकड़ की जमीन भी मांगी है।
परतापुर में मौजूदा भूमि पर 280 मीटर चौड़ा और 2280 मीटर लंबे रनवे पर 72 सीटर का हवाई जहान उड़ान भर सकता है। इसकी पहल राज्यसभा सांसद डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने की जबकि जिला प्रशासन बार-बार शासन को पत्र भेजकर हवाई पट्टी के विस्तारीकरण के लिए जमीन की मांग कर रहा था।

राज्यसभा सांसद ने एयरपोर्ट अथॉरिटी में मौजूदा जमीन की जानकारी दी। जिसके बाद नए सिरे से एयरपोर्ट अथॉरिटी की तकनीकी टीम ने सर्वे किया सर्वे रिपोर्ट के आधार पर उपलब्ध जमीन पर 72 सीटर विमान उड़ाने के लिए मानक के अनुरूप मिली। इसके बाद एयरपोर्ट अथारिटी के अध्यक्ष ने 72 सीटर के हवाई जहाज की उड़ान की स्वीकृति दे दी। साथ ही नई हवाई पट्टी के विस्तारीकरण की बात भी लिख दी ताकि भविष्य में दायरा बढ़ाया जा सके। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने स्वीकृति जताते हुए अब शासन को पत्र लिख दिया है। अपर मुख्य सचिव की अनुमति के बाद हवाई पट्टी पर कार्य शुरू कराया जाएगा।

59 मीटर के अंतराल में बनेगी नई हवाई पट्टी
एयरपोर्ट अथारिटी के सर्वे में वर्तमान हवाई पट्टी से 59 मीटर के अंतराल में नई हवाई पट्टी 1800 मीटर लंबी और 45 मीटर चौड़ी बनेगी। मौजूदा जमीन के सर्वेक्षण के लिए प्रशासन को भी पत्र लिखा है। हालांकि डीएम दीपक मीणा ने वन विभाग, विकास प्राधिकरण, तहसीलदार सदर और सिटी मजिस्ट्रेट के साथ बैठक कर एयरपोर्ट अथारिटी के अभिलेखों में जमीन दर्ज कराने की बात कही। बताया गया कि एयरपोर्ट अथॉरिटी के सर्वे रिपोर्ट के आधार पर नई हवाई पट्टी का विस्तारीकरण आसान होगा जिसके लिए करीब 300 एकड़ जमीन को शासन से मांग करते हुए बड़े विमानों (A321) के संचालन के लिए सुविधा उपलब्ध कराना बताया।

जमीन जल्द दर्ज कराएंगे
वर्तमान जमीन पर 72 सीटर का हवाई जहाज उड़ान भर सकता है। सर्वे करने के बाद एयरपोर्ट अथारिटी ने स्वीकृति भी दे दी है। जिला प्रशासन जल्द एयरपोर्ट अथॉरिटी के अभिलेखों में वन विभाग, विकास प्राधिकरण और किसानों की जमीन दर्ज करा दी जाएगी। -दीपक मीणा, डीएम

टेंडर के बाद शुरू होगा काम
72 सीटर के हवाई जहाज के उड़ान की एयरपोर्ट अथॉरिटी ने स्वीकृति दे दी। शासन से अनुमति भी जल्द हो जाएगी। टेंडर प्रक्रिया के बाद नई हवाई पट्टी के निर्माण का कार्य भी शुरू हो जाएगा। – डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी, राज्यसभा सांसद

Share.

About Author

Leave A Reply