Monday, April 15

खड़ौली में वाल्मीकि मूर्ति स्थल पर भूमाफियाओं के कब्जे का आरोप, ग्रामीणों ने आईजी से की शिकायत

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 19 फरवरी (प्र)। कंकरखेड़ा थानांतंर्गत खड़ौली के वाल्मीकि समाज के लोगों ने आज पुलिस महानिरीक्षक से मिलकर वाल्मीकि की मूर्ति पूजा स्थल पर कब्जा करने वाले भूमाफियाओं के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।

आईजी नचिकेता झा से मिलने गए ग्रामीणों ने बताया कि वे लोग ग्राम खड़ौली, थाना-कंकरखेड़ा के रहने वाले है तथा जाति से वाल्मिकी है। ग्राम खड़ौली में वाल्मिकी समाज की खसरा संख्या 322 होली चौक, नगर निगम, ट्यूबवेल के बराबर में सरकारी बंजर भूमि में वाल्मिकी मूर्ती की स्थापना सन 1996 ई में की गई थी। वाल्मिकी मूर्ती की स्थापना से लेकर आज तक के सभी दस्तावेज सुरक्षित है, तथा वाल्मिकी समाज तब से लेकर आज तक मूर्ती पूजा करते चले आ रहे है। ग्राम खड़ौली के रहने वाले भूमाफिया अमरजीत पुत्र फूल सिंह, ज्ञानवती देवी पत्नि विकम, संजय पुत्र फूल सिंह जिस पर पूर्व में भी हत्या के मुकदमे चल रहे है और पूनम पत्नि भूरू उर्फ रूपक व बिजेन्द्र पुत्र भगवत ने मूर्ती स्थल के कुछ हिस्से पर अवैध कब्जा कर लिया था। जिसके सम्बन्ध में वाल्मिकी समाज के जिम्मेदारा लोगो ने उक्त लोगो को समझाने का काफी प्रयास किया, परन्तु ये लोग नही माने तथा कब्जा नही छोड़ा।

ग्रामीणों ने उक्त अवैध कब्जे की शिकायत गत वर्ष 21 अप्रैल को नगर आयुक्त म्को की थी, जिसकी जांच नगर आयुक्त ने प्रभारी सम्पत्ति नगर निगम को सौंपी जिसकी जाचं प्रभारी सम्पत्ति नगर निगम द्वारा की गई। प्रभारी सम्पत्ति ने जांच करके उक्त लोगो का अवैध कब्जा पाया तथा थाना प्रभारी थाना कंकरखेड़ा को सम्पत्ति पर किये जा रहे अवैध निर्माण को तत्काल रूकवाने तथा दोषियो के विरूद्ध आवश्यक कानूनी कार्यवाही करने के लिए कहा गया परन्तु उक्त लोगो का थाने पर राजनैतिक प्रभाव होने के कारण न तो अवैध निर्माण रूका और न ही दोषियो के खिलाफ कोई कानूनी कार्यवाही की गई है। ग्रामीणों ने इसके बाद फिर से नगर आयुक्त और कैंट विधायक अमित अग्रवाल को दिया लेकिन अभी तक कोई कार्यवाहीं हुई है।

Share.

About Author

Leave A Reply