Monday, April 15

उपराष्ट्रपति के नाम पर जाति को भड़का रही भाजपा: टिकैत

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मुजफ्फरनगर, 23 दिसंबर। भाकियू प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने कहा कि उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के मामले को किसी जाति से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। उपराष्ट्रपति किसी जाति के नहीं, बल्कि पूरे देश के हैं। भाजपा जाति को भड़काने का काम कर रही है।

गत दिवस भाकियू प्रवक्ता ने कहा कि राजनीतिक दल समाज को आगे कर वोट बटोरने का काम करते हैं। भाजपा की तरफ इशारा करते हुए कहा कि यही काम सरकार ने किया है। सवाल यह है कि इस मामले में समाज को कैसे आगे किया जा रहा है, जिस तरह एक जाति को आगे कर भड़काया जा रहा है, यह सरकार की जालसाजी है। उपराष्ट्रपति सर्वसमाज के हैं, फिर जाटों को ही क्यों आगे किया जा रहा है। उन्होंने कुश्ती संघ के चुनाव पर कहा कि चुनाव की संवैधानिक प्रकिया है, जिसे वोट मिली वह जीत गया।

भाकियू प्रवक्ता चैधरी राकेश टिकैत ने अयोध्या से निमंत्रण को ले कर कहा कि रघुवंश परिवार का जन्म अयोध्या से हुआ है। हम श्रीराम के वंशज है। अगर श्रीराम मंदिर लोकार्पण समारोह के लिए बुलावा मिलता है तो जाएंगे। लेकिन बुलावा अब सरकार दे रही है, रामलला समिति नहीं दे रही है। समिति के लोगों को अपनी मर्जी से किसी को बुलाने का अधिकार ही नहीं है। वो सरकार से पूछकर ही निमंत्रण भेज रहे हैं। उन्होंने कहा कि अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा भाजपा का कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि अयोध्या हमारी जन्मस्थली रही है, हमारे परिवार का अयोध्या में जन्म हुआ है। हम इस कुल से हैं अगर हमको निमंत्रण मिलेगा तो हम जरूर जाएंगे।

Share.

About Author

Leave A Reply