Sunday, April 14

छपरौली के विनीत जैन ने टॉप की इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा

Pinterest LinkedIn Tumblr +

बागपत 23 नवंबर। यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन की तरफ से इंजीनियरिंग सर्विस 2023 का फाइनल रिजल्ट जारी हो गया है. इस परीक्षा में शामिल होने वाले कैंडिडेट्स यूपीएससी की ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं. रिजल्ट के साथ-साथ यूपीएससी इंजीनियरिंग सर्विस के टॉपर्स की लिस्ट भी जारी की गई है. इस साल विनीत जैन को रैंक 1 प्राप्त हुआ है.

यूपीएससी इंजीनियरिंग सर्विस के लिए आवेदन प्रक्रिया 14 सितंबर 2022 को शुरू हुई थी. इसके लिए 4 अक्टूबर 2022 तक आवेदन लिया गया था. इस परीक्षा का फाइनल रिजल्ट नोटिफिकेशन जारी होने से 1 साल बाद घोषित किया गया है.
यूपीएससी इंजीनियरिंग सर्विस परीक्षा के माध्यम से कुल 327 पदों पर भर्तियां होनी थी. इस वैकेंसी के लिए मेन्स परीक्षा 25 जून 2023 को आयोजित की गई थी. परीक्षा का रिजल्ट वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है. इसमें कुल 401 उम्मीदवारों का सेलेक्शन हुआ है.

टॉपर्स लिस्ट
विनीत जैन
सुधांशु सिंह
सुबन कुमार मिश्रा
अवंतिका राठौड़
प्रदीप कुमार
आदित्य प्रकाश शर्मा
देवेन्द्र साहू
अनंत यादव
सूर्यकांत शर्मा
विजय दीक्षित
अर्चित कटारे
पीयूष गर्ग
तरूण कुमार
अभिनव अरुणराव पाटकी
प्रांशु जांगिड़
अतुल पारासर
अनुभव
देवेन्द्र पाटिल
विनय सिंह भाटी
सारांश गुप्ता

विनीत जैन: कस्बा निवासी विनीत जैन ने संघ लोक सेवा आयोग ( यूपीएससी) की प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा परीक्षा 2023 टाप की है। बुधवार को जारी परिणाम की सूचना मिलते ही स्वजन व कस्बावासियों ने मिठाई बांटकर खुशी जताई। पहले ही प्रयास में सफलता हासिल करने पर विनीत बेहद प्रसन्न हैं, हालांकि उनका सपना आइएएस बनने का है। स्वजन ने विनीत का छपरौली पहुंचने पर स्वागत करने का निर्णय लिया।
मूलरूप से छपरौली के रहने वाले अजय जैन हाल में बड़ौत डाकघर में एएसपी के पद पर कार्यरत हैं। वे पिछले 15 वर्षों से बलबीर नगर शाहदरा, दिल्ली में पत्नी शैली जैन तीन बेटों विनीत, पुनीत व उदित के साथ रहते हैं। बुधवार को यूपीएससी ईएसई में आल इंडिया प्रथम रैंक हासिल करने पर अजय के परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई। विनीत ने बताया कि उन्होंने दसवीं सेंट फ्रांसिस स्कूल शामली और 12वीं स्काटिश इंटरनेशनल स्कूल शामली से की। इसके बाद सिविल इंजीनियरिंग आइआइटी पालक्काड, केरल से की। इसी वर्ष उन्होंने दोबारा गेट उत्तीर्ण किया था, जिसमें 11वीं रैंक प्राप्त की थी। इससे पहले उनकी 28वीं रैंक थी । विनीत फिलहाल इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड कंपनी विशाखापत्तनम में मैनेजमेंट ट्रेनी के पद पर कार्यरत हैं। वे इसी वर्ष आइआइटी से पासआउट हुए हैं। उन्होंने बताया कि वे पहले ही प्रयास में भारतीय इंजीयरिंग सेवा के लिए उत्तीर्ण होने पर खुशी महसूस कर रहे हैं। हालांकि वे अब सिविल सेवा की तैयारी करेंगे। उन्होंने ईएसई के लिए कहीं कोचिंग नहीं ली। आनलाइन कंटेंट से घर पर रहकर तैयारी की। कस्बा निवासी ताऊ संजय जैन ने बताया कि विनीत ने नौकरी करते हुए रोज 10-12 घंटे पढ़ाई की। संजय जैन के बेटे अर्पित जैन ने वर्ष 2021 में आइएएस की परीक्षा में छठा स्थान प्राप्त किया था।

Share.

About Author

Leave A Reply