Thursday, June 13

गोवर्धन पूजा पर मथुरा के द्वारिकाधीश मंदिर में उमड़ी भक्तों की भीड़

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मथुरा 13 नवंबर। देशभर में दीपावली के एक दिन बाद गोवर्धन पूजा का त्योहार मनाया जाता है। हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को गोवर्धन पूजा करने का विधान है। इस तिथि को अन्नकूट के नाम से जाना जाता है क्योंकि इस दिन घरों में अन्नकूट का भोग बनाया जाता है। इस बार गोवर्धन पूजा 13 नवंबर के बजाए 14 नवंबर को की जाएगी। गोवर्धन पूजा के दिन गोवर्धन भगवान और गिरिराज जी के साथ ही भगवान श्री कृष्ण की पूजा की जाती है। इस अवसर को लेकर आज यानी सोमवार को श्री कृष्ण जन्मभूमि मथुरा में लोगों के बीच उत्साह देखने को मिला।

गोवर्धन पूजा के अवसर के चलते आज सोमवार के दिन मथुरा के द्वारकाधीश मंदिर में भक्तों का जनसैलाब उमड़ा है। लोग बड़ी तदाद में मंदिर पहुंचे और द्वारिकाधीश भगवान की पूजा आराधना कर मनोकामना मांगी। गोवर्धन पूजा हर साल कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा को मनाते हैं। इस दिन गोवर्धन पर्वत, भगवान श्रीकृष्ण और गोमाता की पूजा करने का विधान है। इसी दिन भगवान श्रीकृष्ण ने देवताओं के राजा इंद्र के अहंकार को नष्ट किया था। इस दिन मंदिरों के अलावा कॉलोनी आदि में गाय के गोबर से गोवर्धन भगवान के बड़े सुंदर प्रतिरूप बनाकर पूजा की जाती है।

वहीं हर साल दिवाली के अगले दिन कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को गोवर्धन पूजा की जाती है. इस अवसर पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने देश व प्रदेश वासियों को गोवर्धन पूजा की शुभकामनाएं दीं.
केशव प्रसाद मौर्य ने एक्स पर लिखा, “समस्त देश एवं प्रदेशवासियों को गोवर्धन पूजा की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं. भगवान श्री कृष्णा जी आपके जीवन में सुख समृद्धि व धन-वैभव की वर्षा करें.”

Share.

About Author

Leave A Reply