Sunday, April 14

25 हजार घूस लेते सीजीएसटी अधीक्षक समेत 4 गिरफ्तार

Pinterest LinkedIn Tumblr +

अलीगढ़ 07 अक्टूबर। नोटिस निस्तारण के नाम पर सीबीआई ने 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए लालडिग्गी सीजीएसटी कार्यालय से चार लोगों को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। गत दिवस इन्हें गाजियाबाद विशेष सीबीआई न्यायाधीश परमेंद्र कुमार की अदालत में पेश किया गया और वहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।
गिरफ्तार किए गए अधीक्षक केपी सिंह, निरीक्षक प्रदीप कुमार-रोहित कुमार वार्ष्णेय व सहायक संचित चौहान को  गाजियाबाद विशेष सीबीआई जज परमेंद्र कुमार की कोर्ट में पेश किया गया और यहां से 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। 19 अक्तूबर की तारीख सुनवाई के लिए निश्चित की गई है।

दरअसल, सीजीएसटी अधीक्षक किरण पाल सिंह ने नोटिस निस्तारण के नाम पर एक व्यक्ति से 30 हजार रुपये की मांग की थी। उनके सहयोगी रोहित वार्ष्णेय और संचित ने धमकी दी थी कि अगर रुपये नहीं दिए गए तो फाइल लखनऊ भेज दी जाएगी।
कुछ ले देकर मामला निपटने की बात रखी है तो 25 हज़ार की रुपये की डिमांड किरण पाल सिंह ने की। इसी शिकायत के आधार पर बृहस्पतिवार को सीबीआई ने जाल बिछाकर केपी सिंह को रिश्वत के 25 हजार रुपये लेते हुए रंगे हाथ उनके कार्यालय से गिरफ्तार किया था।

कार्यालय में रोहित, प्रदीप व संचित मौजूद थे और चारों इस भ्रष्टाचार में शामिल थे। इस बात के बातचीत साक्ष्य भी सीबीआई ने संकलित किए हैं। रात 11:30 बजे तक कार्रवाई के बाद सीबीआई तडक़े तीन बजे सभी को यहां से लेकर गई। इसके बाद शुक्रवार दोपहर बाद अदालत में पेश किया था। सीबीआई ने अदालत से कहा कि रिश्वत के लिए हुए रुपये की बरामदगी हो गई है, इसलिए चारों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया जाए। इन चारों पर सीबीआई ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम व साजिश की धारा में मुकदमा दर्ज किया है।

Share.

About Author

Leave A Reply