Sunday, April 14

इंटीग्रेटेड टाउनशिप के लिए जमीन की दरें जारी, 15 से रजिस्ट्री, किसानों को किया जाएगा चार गुना भुगतान

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 04 दिसंबर (प्र)। परतापुर मोहिउद्दीनपुर में प्रदेश की पहली इंटीग्रेटेड टाउनशिप के लिए जिला प्रशासन की ओर से गठित कमेटी ने किसानों की भूमि लेने के लिए दरें जारी कर दी हैं। मौजूदा सर्किल रेट की दूर का चार गुना भुगतान किया जाएगा। अभी शुरुआती दौर में छज्जूपुर और मोहिउद्दीनपुर में किसानों से सहमति के आधार पर जमी ली जाएगी। मेडा अफसरों के मुताबिक अब किसानों से वार्ता की जाएगी और 15 दिसंबर से रजिस्ट्री की तैयारी है। मेडा पहले फेज के अंतर्गत 142 हेक्टेयर में इंटीग्रेटेड टाउनशिप विकसित करेगा। इसमें 100 हेक्टेयर जहां आवासीय होगा तो वहीं 27 हेक्टेयर को व्यावसायिक उपयोग और 20 हेक्टेयर को आईटी के लिए आरक्षित किया गया है।

आरआरटीएस स्टेशन, डेडिकेटेड फ्रेट कॉरीडोर, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे मोहिउद्दीनपुर स्टेशन की दूरी यहां से महज डेढ़ किमी रहेगी। सिटी स्टेशन से दस और परतापुर से चार किमी. की दूरी रहेंगी। ऐसे में यहां तैयार सामान को बाजार भी सुलभता से मिलेगा। आने वाले समय में रैपिड का विस्तार भी होगा। दिल्ली व जेवर से कनेक्टिविटी से दुनियाभर में सामान निर्यात किया जा सकेगा।
मेरठ महायोजना 2031 में रैपिड कॉरिडोर के तहत वैल्यू कैप्चर कॉस्ट (वीसीसी) के तहत इसे मिश्रित भू- उपयोग में रखा गया है, ताकि रैपिड के संचालन में वित्तीय फंड जुटाया जा सके। सिटी लॉजिस्टिक प्लान (सीएलपी) को भी इसमें शामिल किया गया है।
अर्बन मास ट्रांजिट कंपनी (यूएमटीसी) की ओर से तैयार ड्राफ्ट के तहत 2164 करोड़ से यह बनेगा। इसमें मीजूदा आबादी 24.15 लाख का आकलन करते हुए साल 2042 में अपेक्षित संसाधन और मौजूदा स्थिति के तहत रोजगार पर फोकस किया गया है। उपाध्यक्ष अभिषेक पांडेय ने बताया कि महायोजना 2031 के तहत औद्योगिक क्षेत्र में 75 फीसदी, व्यवसायिक क्षेत्र में 96 फीसदी और आवासीय क्षेत्र में 50 फीसदी का इजाफा किया गया है। मेडा उपाध्यक्ष ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से दरें जारी कर दी गई हैं।
निर्धारित सर्किल रेट का चार गुना भुगतान किसानों को भूमि के एवज में किया जाएगा। विशेष कार्याधिकारी रंजीत कुमार ने बताया कि छज्जुपुर में मौजूदा सर्किल रेट 850 रुपये है, जबकि मोहिउद्दीनपुर में 1950 रुपये प्रति वर्ग मीटर है। उन्होंने बताया कि 15 दिसंबर से मेडा के पक्ष में जमीन की रजिस्ट्री की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

न्यू टाउनशिप में बनेंगे 41,575 आवास
मेडा लगा दो फेज में एक हजार करोड़ से प्रदेश की पहली इंटीग्रेटेड टाउनशिप होंगी विकसित 1.85 लाख लोगों के लिए 41 हजार 575 आवास इसमें बनेंगे। मिश्रित भू-उपयोग होने के कारण ढाई लाख लोग लाभान्वित होंगे। परतापुर मोहिउद्दीनपुर में छज्जूपुर, इकला, कायस्थ व मोहिउद्दीनपुर की 294.68 हेक्टेयर में नई कॉलोनी प्रस्तावित है। दौराला में दूसरे फेज में टाउनशिप का विकास किया जाएगा।

Share.

About Author

Leave A Reply