Monday, May 20

देश की पहली रैपिड रेल को पीएम मोदी ने दिखाई हरी झंडी, नमो भारत के नाम से जानी जाएंगी हाई स्पीड ट्रेन

Pinterest LinkedIn Tumblr +

गाजियाबाद 20 अक्टूबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर के पहले फेज का उद्घाटन कर दिया. देश को पहली रैपिड रेल की सौगात मिली. बता दें कि पहले रैपिड रेल का नाम नमो भारत रखा गया है.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रैपिड रेल ‘नमो भारत’ में दुहाई तक सफर करेंगे. उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, एनसीआरटीसी के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहें. इसके बाद करीब 12 बजे वह गाजियाबाद के वसुंधरा में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे.

दिल्ली से मेरठ के बीच 82 किलोमीटर के रूट पर चलने वाली इस हाईस्पीड ट्रेन के पहले फेज का आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरी झंड़ी दिखाकर उद्घाटन कर दिया है. पहले फेज़ में साहिबाबाद से दुहाई डिपो तक लोग सफर कर सकेंगे। 21 अक्टूबर की सुबह 6 बजे से लोग इस ट्रेन में सफर कर सकेंगे।
आज प्रधानमंत्री रैपिडएक्स स्टेशन पर पहुंचकर दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ रैपिडएक्स मॉडल, रैपिडएक्स ऐप, मल्टीकार्ड की शुरुआत की। UPI से टिकट खरीदेी। फ्लेटफार्म पर गए और रैपिडएक्स को हरी झंडी दिखाई। तीसरी रैपिडएक्स में सवार होकर प्रधानमंत्री दुहाई तक जाएंगे। उत्तर प्रदेश के साहिबाबाद रैपिडएक्स स्टेशन पर दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ RRTS कॉरिडोर के पहले फेज का उद्घाटन हुआ। इस मौके पर ही रैपिडएक्स ट्रेन को रवाना किया गया।

बताते चले कि साहिबाबाद से दुहाई डिपो तक का ट्रेन किराया 50 रुपए रखा गया है. वहीं, प्रीमियम कोच के लिए 100 रुपए चुकाने होंगे. अब यह ट्रेन हर 15 मिनट में उपलब्ध होगी, लेकिन आगे के स्टेशनों के विस्तार के बाद इस ट्रेन का परिचालन हर 5-5 मिनट में किया जाएगा. इस गलियारे का निर्माण 30 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की लागत से किया जा रहा है. यह ट्रेन गाजियाबाद, मुरादनगर और मोदीनगर से गुजरते हुए एक घंटे से भी कम समय में दिल्ली से मेरठ पहुंच जाएगी.

Share.

About Author

Leave A Reply