Thursday, May 30

बलूचिस्तान में मस्जिद के पास बम धमाका, 52 लोगों की मौत; 130 से ज्यादा घायल

Pinterest LinkedIn Tumblr +

कराची 29 सितंबर। पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के एक मस्जिद के पास आज एक आत्मघाती हमले में लगभग 52 लोगों की मौत हो गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 130 से अधिक लोग इस हमले में घायल हो गए हैं। मालूम हो कि जब लोग पैगंबर मुहम्मद का जन्मदिन मनाने के लिए एक रैली के लिए एकत्र हुए थे, जिस दौरान यह हादसा हुआ है।

पाकिस्तान के आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि विस्फोट ‘आतंकवादी तत्वों’ द्वारा किया गया. मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘ईद मिलाद-उल-नबी के जुलूस में हिस्सा लेने आए निर्दोष लोगों पर हमला बहुत ही जघन्य कृत्य है.’ इस बीच, बलूचिस्तान के सूचना मंत्री जान अचकजई ने एक्स पर पोस्ट किया कि मृतकों की संख्या बढ़ रही है. दुश्मन विदेशी सरपरस्ती में बलूचिस्तान में धार्मिक सहिष्णुता और शांति को नष्ट करना चाहता है. यह विस्फोट असहनीय है.’

मुस्तांग के सहायक आयुक्त अट्टा उल मुनीम ने बताया कि मदीना मस्जिद के समीप हुआ विस्फोट बहुत शक्तिशाली प्रतीत होता है. डॉन समाचार पत्र की खबर के मुताबिक, विस्फोट में कम से कम 52 लोगों की मौत हो गई और 130 से अधिक घायल हो गए. थानाध्यक्ष जावेद लहरी ने बताया कि घायलों को चिकित्सा केंद्रों में भर्ती कराया जा रहा है जबकि अस्पतालों में आपातकाल लागू कर दिया गया है. प्रशासन ने बताया, ‘कुछ घायलों की हालत बहुत गंभीर है.’ विस्फोट में मारे गए लोगों में एक पुलिस उपाधीक्षक भी शामिल हैं.

वारसाक के पुलिस अधीक्षक मोहम्मद अरशद खान ने पुष्टि की कि सुबह करीब 10:30 बजे (स्थानीय समय) हमले में खैबर पख्तूनख्वा एफसी की मोहमंद राइफल्स रेजिमेंट के एक वाहन को निशाना बनाया गया. वाहन माचनी से पेशावर की ओर जा रहा था, जब विस्फोट हुआ. रिपोर्ट के अनुसार, मोहम्मद अरशद खान ने कहा कि फ्रंटियर कांस्टेबुलरी का एक अधिकारी मारा गया और छह एफसी अधिकारी और दो लोग घायल भी हुए.

बलूचिस्तान के अंतरिम सूचना मंत्री जान अचकजई ने कहा कि बचाव दल को मस्तुंग भेजा गया है। उन्होंने कहा कि गंभीर रूप से घायल लोगों को क्वेटा स्थानांतरित किया जा रहा है और सभी अस्पतालों में आपात स्थिति लागू कर दी गई है।
अचकजई ने कहा, “दुश्मन बलूचिस्तान में धार्मिक सहिष्णुता और शांति को नष्ट करना चाहते हैं।” उन्होंने आगे कहा कि कार्यवाहक मुख्यमंत्री अली मर्दन डोमकी ने अधिकारियों को विस्फोट के लिए जिम्मेदार लोगों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है।

Share.

About Author

Leave A Reply