Monday, May 20

नशा मुक्ति केंद्र में व्यापारी की मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 10 अक्टूबर (प्र)। गंगानगर स्थित आइआइएमटी कालेज के सामने नशामुक्ति केंद्र में इलेक्ट्रोनिक्स व्यापारी को पीट-पीट कर मार दिया। स्वजन ने आरोप लगाकर नशामुक्ति केंद्र में हंगामा कर दिया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है, जबकि केंद्र के संचालक का कहना है कि नशा नहीं मिलने पर अचानक व्यापारी की तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके चलते उसकी मौत हो गई।

गाजियाबाद के साहनीगेट थाना क्षेत्र के मालीवाड़ा निवासी 28 वर्षीय नितिन वर्मा की इलेक्ट्रोनिक्स की दुकान है। नितिन पूरी तरह से नशे का आदी हो गया था। तभी परिवार के लोगों ने रिश्तेदारों से मिलकर नितिन को गंगानगर स्थित आइआइएमटी कालेज के सामने नशामुक्ति केंद्र में 29 सितंबर को भर्ती करा दिया। भाई सचिन वर्मा ने बताया कि रात साढ़े तीन बजे नशा मुक्ति केंद्र से उन्हें काल कर नितिन की तबीयत बिगड़ने की सूचना दी गई। सुबह छह बजे नशामुक्ति केंद्र में पहुंचे, जहां नितिन का शव रखा हुआ था। उसके शरीर पर चोट के निशान बने हुए थे। सचिन वर्मा का आरोप है कि उसके भाई को पीट-पीट कर मार दिया।

अंकित का कहना है कि नितिन नशे की ज्यादा डोज लेता था। अचानक ही नशा बिल्कुल बंद करने पर उसकी तबीयत बिगड़ गई। उसे डाक्टर के पास लेकर चले गए, जहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। इंस्पेक्टर अनिल शाही का कहना है कि मृतक के स्वजन की तहरीर पर मामले की जांच की जा रही है। उसके बाद ही आगे की कार्रवाई होगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या के कारण स्पष्ट हो जाएंगे।

Share.

About Author

Leave A Reply