Saturday, July 20

शिप्रा सनसिटी में मजार के अवैध निर्माण पर चलेगा जीडीए का बुलडोजर

Pinterest LinkedIn Tumblr +

गाजियाबाद 16 नवंबर। इंदिरापुरम स्थित शिप्रा सनसिटी के पार्क में बने मजार के अवैध कमरों को तोड़ने को चिह्नित करने के लिए बुधवार को पहुंचे जीडीए के सहायक अभियंता व पार्षद संजय सिंह की वहां के खादिम से बहस हो गई। जीडीए ने इसका दो वीडियो भी जारी किया है।
जीडीए के सहायक अभियंता का कहना है कि कमरे अवैध रूप बने है। तीनों के कमरों को तोड़ा जाएगा। जीडीए के सहायक अभियंता पीयूष सिंह ने बताया कि पार्षद संजय सिंह ने मजार के कमरे बनाने की शिकायत की थी। इसके बाद वह पार्षद संग मौके पर पहुंचे व मजार के खादिम से निर्माण की अनुमति दिखाने को कहा, तो वह नहीं दिखा सके। उनसे कमरों को खाली करने को कहा। कमरों को बुलडोजर से तोड़ा जाएगा।
पार्षद संजय सिंह का कहना है कि उन्होंने मामले में शिकायत की थी। यहां अवैध रूप से कमरे बन रहे हैं। यदि कमरों को नहीं तोड़ा जाता, तो यहां लोग नमाज पढ़ेंगे। इससे सोसायटी के लोगों को परेशानी होगी।

जीडीए ने भी दो वीडियो जारी किए हैं। एक वीडियो में मजार के खादिम व पार्षद संजय सिंह में बहस हो रही है। एक मिनट 50 सेकंड के पहले वीडियो में सहायक अभियंता मजार के खादिम की ओर अंगुली दिखा कहते दिख रहे हैं कि इनका नाम, मोबाइल नंबर लिखो।

पार्षद बोलते हैं कि तुम कर क्या रहे हो। फ्लैट बना रहे हो…।तभी मजार की देखरेख करने वाली महिला बोलती है कि यह कच्ची मिट्टी का बना था। वर्षा में गिर गया था। पार्षद कहते हैं कि इतना ही काम करना चाहिए जितनी अनुमति है।
अभियंता कहते है कि यहां फ्लैट नहीं बना सकते। तब महिला कहती है कि यह फ्लैट नहीं है। वह सेवा के लिए यहां रहते हैं। अभियंता कहते हैं कि मुझे कोई मतलब नहीं है। अगर एक ईंट भी डाली तो अभियान चलाकर तोड़ा जाएगा। अंत में महिला कहती है तोड़ लो भैया-तोड़ लो…। जो तुम्हारी मर्जी वह करो। तभी पार्षद बोलते हैं कि यह क्या फ्लैट बना रहे हो? तभी वहां तेज आवाज में बोल रहे एक अन्य व्यक्ति से महिला कहती है कि जैसे वह आराम से बात कर रही है, वैसे ही उससे आराम से बात की जाए।

दूसरा वीडियो: दूसरा वीडियो 48 सेकंड का है। इसे काटकर जारी किया गया है। दूसरे वीडियो में संजय कहते हैं कि यहां मोदी कहां से आ गए। पक्का फ्लैट नहीं बना सकते। अभियंता कहते हैं कि प्रधानमंत्री आकर यहां गलती कर रहे हैं। कितने नफरत भर लिए हो तुम लोग…। खादिम कहता है कि वह गलती मान रहे हैं।

अभियंता कहते हैं कि गलती क्या मान रहे हो। समझाओं उसको। खादिम कहता है कि मैं समझा देता हूं। पार्षद कहते है कि नफरतभर रखे हो क्या तुम लोग। अभियंता महिला से कहते हैं कि अभी बैठवा देंगे थाने में। सरकारी काम में बाधा उत्पन्न कर रही हो। जमानत भी नहीं मिलेगी।

Share.

About Author

Leave A Reply