Saturday, July 20

एक साल पहले बोरे में मिले महिला के शव की पहचान

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 27 फरवरी (प्र)। खरखौदा के यमुनानगर में एक साल पहले बोरे में मिले महिला के शव की पहचान बिहार की रहने वाली परवीना के रूप में हुई है। उसके पति ने ही हत्या की थी। आरोपित पति को पुलिस ने दबोच लिया।

11 फरवरी 2023 को दिन निकलते ही बिजली बंबा चौकी क्षेत्र के यमुनानगर में बंद बोरे में युवती का नग्न शव मिला। गला दबाकर हत्या करने के बाद बोरे में भरकर शव को गैस गोदाम के पास फेंक दिया। सीसीटीवी फुटेज से सामने आया था कि हत्यारोपित बोरे में भरकर शव को कंधे पर रखकर घूमता रहा और बोरे को लेकर लिसाड़ीगेट एरिया से गैस गोदाम की तरफ पहुंचा था। उसके बाद उसी रास्ते से लौट भी गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया था कि महिला दो माह की गर्भवती थी।

एसएसपी रोहित सजवाण ने बताया कि खरखौदा थाने के होमगार्ड ने यमुनानगर में घर-घर जाकर दोबारा से पूछताछ की। इसी दौरान पता चला कि गतवर्ष फरवरी में एक परिवार लिसाड़ीगेट से चला गया। होमगार्ड ने उस परिवार के बारे में जानकारी जुटाई तो पता चला कि परिवार बिहार के कासगंज का रहने वाला था। महिला की फोटो वहां रहने वाले लाल मोहम्मद को भेजी गई। उन्होंने बताया कि मृतका परवीना की हत्या कर शव को बोरे में रख यमुनानगर गांव में घूमता पति वीडियो ग्रैब उनकी बेटी परवीना है। उसका निकाह लिसाड़ीगेट के साजिद से हुआ था । महिला की पहचान होने के बाद पुलिस ने साजिद को हिरासत में ले लिया।

बताया जाता है कि साजिद ने ही पत्नी की हत्या की थी। हत्या की वजह जानने के लिए साजिद से पूछताछ की जा रही है।

Share.

About Author

Leave A Reply