Monday, May 20

इंदिरापुरम में कैश जमा करने बैंक गए पेट्रोल पंप कर्मचारी से साढ़े नौ लाख की लूट

Pinterest LinkedIn Tumblr +

गाजियाबाद, 08 नवंबर। गाजियाबाद के इंदिरापुरम में लूट की वारदात से पूरे इलाके में सनसनी मच गई। पेट्रोल पंप के कैशियर अजब सिंह ने कहा कि वह हर दिन कि तरह मंगल चौक स्थित एसबीआई शाखा में मंगलावर दोपहर 12 बजे अपने सेल्स सहायक दीपक कुमार के साथ बाइक से केश जमा करने गए थे। अजब सिंह बैग में रखे 9,56,850 रुपये गोदी में लेकर बाइक पर पीछे बैठे थे। शाखा के बाहर बाइक रुकते ही आपचे बाइक सवार दो लोग आए और अजब के हाथ से बैग झपटकर कर ले गए। अजब ने चिल्लाते हुए बाइक सवारों का पीछा करना शुरू किया। दीपक भी लुटेरों के पीछे 200 मीटर तक भागे, भीड़ होने के कारण कुछ दूरी तक हेलमेट को देखकर पीछा किया, लेकिन दोनों तेजी से एनएच की ओर निकल गए।

पेट्रोल पंप पर 10 साल से काम कर रहे मूल रूप से मेरठ और वर्तमान में ग्रेटर नोएडा में रहने वाले कैशियर अजब सिंह ने बताया कि वही हर दिन कैश जमा कराने जाते हैं। पेट्रोल पंप से शाखा करीब आधा किलोमीटर दूर है। वह ही कैश जमा कराने जाते हैं। शनिवार को 20 लाख, सोमवार को 11 लाख व मंगलावर को 9.56 लाख रुपये जमा कराने पहुंचे थे।
सेल्स सहायक दीपक ने बतया कि अजब के पीछा करने पर उन्होंने भी लुटेरों का पीछा किया था। दोनों ने हेलमेट पहने हुए थे। वह बाइक का नंबर नहीं नोट कर पाए। बैंक के आसपास पुलिस नहीं थी। 112 पर सूचना देने के लिए नंबर डायल किया लेकिन नहीं मिला।

घटना होने पर भीड़ जमा हुई और इस बीच पुलिस कर्मी पहुंचे। उन्होंने पेट्रोल पंप मैनेजर को सूचना दी और पंप से तत्काल मालिक विनीत यादव को जानकारी दी गई। पुलिस कमिशनर अजय मिश्रा लूट की जानकारी होने पर खुद घटना स्थल पहुंचे। पेट्रोल पंप कैशियर, सेलस साहयक, पंप मालिक, 22 कर्मियों से जानकारी जुटाई। घटना को लेकर अधिकारियों के पेंच कसे। डीसीपी ट्रांस हिण्डोन शुभम पटेल ने बताया कि लूट कि घटना के अनावरण के लिए आठ टीमों का गठन किया गया है। सीसीटीवी से लुटेरों कि पहचान कर जल्द घटना का खुलसा किया जाएगा।

Share.

About Author

Leave A Reply