Tuesday, May 28

विद्या नॉलेज पार्क में मनाया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 08 मार्च (प्र)। बागपत रोड स्थित विद्या नॉलेज पार्क के विद्या इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी कॉलेज में गुरुवार को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में विद्या नॉलेज पार्क के प्रबंध निदेशक विशाल जैन मौजूद रहे। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण प्रतिभाशाली छात्राओं के साथ मिस्र देश से पहुंची इंटर्न नदीम को शीरोज एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित करना रहा। महिलाओं के अधिकारों और जागरूकता पर पत्रकारिता एवं जनसंचार विभागों के छात्र-छात्राओं ने एक नुक्कड़ नाटक पेश किया। रंगारंग प्रस्तुति के बीच सभी ने खूब धमाल मचाया।

इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की थीम ‘महिलाओं के लिए निवेश कर प्रगति में तेजी लाएं’ है। संयुक्त राष्ट्र ने 2030 तक महिलाओं और लड़कियों को सशक्त बनाने का लक्ष्य रखा है। इसको लेकर विद्या इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी कॉलेज में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि विशाल जैन एवं सभी निदेशकों के स्वागत से हुआ। दीप प्रज्ज्वलन एवं विद्यागान के बाद विद्या स्कूल ऑफ बिजनेस की निदेशिका डॉ.वसुधा शर्मा ने सभी का स्वागत करते हुये इस दिवस की हार्दिक बधाई दी। उन्होंने छात्राओं को जीवन में सदैव ऊंची उड़ान और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। मुख्य अतिथि प्रबंध निदेशक विशाल जैन ने कहा कि आज विद्या की फिमेल फैकल्टी किसी से कम नहीं हैं और सभी क्षेत्र में बेहतर काम कर रही हैं। मुख्य अतिथि ने कहा कि महिलाओं के लिए निवेश करके प्रगति को गति दे सकते हैं। उन्होंने सभी को महिला दिवस की हार्दिक बधाई दी।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंख्ला में सबसे पहले अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कब से और क्यों मनाया जाता है, इसपर एक वीडियो दिखाया गया। पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग की विद्यार्थियों ने महिलाओं के समान अधिकार को लेकर नुक्कड़ नाटक ‘बराबरी का हक है हमारा’ का मंचन किया गया। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण शीरोज अचीवर अवार्ड रहा जिसके तहत उपलब्धि हासिल करने वाली छात्राओं को मुख्य अतिथि ने शीरोज अचीवर अवार्ड से सम्मानित किया। मिस्र देश से पहुंची इंटर्न छात्रा नदीम को भी यह सम्मान प्रदान किया गया। इस मौके पर विद्या इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी की निदेशिका डॉ.रीमा वार्ष्णेय ने कहा कि आज महिलाएं सभी क्षेत्रों में बड़ी तेजी से आगे बढ़ रही हैं। जरूरत है कि जो पीछे छूट गईं हैं उन्हें आगे लाया जाये। तभी संपूर्ण विकास का सपना साकार हो सकेगा। वहीं विद्या कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के निदेशक डॉ.राजीव कुमार चेची ने कहा कि ऊंची उड़ान के लिए बड़े सपने देखना सीखें। जीवन में सदैव स्वयं को अपटू डेट रखें। अपनी मंजिल को कभी भूलें नहीं। विद्या इंस्टीट्यूट ऑफ क्रीएटिव टीचिंग्स की निदेशिका डॉ.अनीता कोटपाल ने सभी को बधाई देते हुये कहा कि आज सभी क्षेत्रों में महिलाओं का दबदबा बढ़ा है। आपको न केवल बड़ा सोचना चाहिए बल्कि सभी चीजों में भागीदारी निभानी चाहिए। स्वयं को श्क्षित करें और जो ठाना है उसे हर हाल में पूरा करना है। यही नारी की शक्ति है।

साथ ही गेम, कविता, धमाकेदार नृत्य और अंत में डीजे के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। अंत में कार्यक्रम की संयोजिका पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. ममता भाटिया ने सभी को धन्यवाद देते हुये ‘शी फॉर हर’का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि यदि आपने विकास कर लिया है तो दूसरों के लिए काम करें। नुक्कड़ नाटक का संयोजन असिस्टेंट प्रोफेसर सूरज देव प्रसाद ने किया तो तकनीकी रूप से पूरे कार्यक्रम को सफल बनाने में असिस्टेंट प्रोफेसर अविनाश कुमार का योगदान रहा। डेकोरेशन टीम में छात्र वासु प्रजापति, अंकित नारंग, बादल चौधरी, यशराज मलिक, प्रज्ञा, आर्या, संयम सैनी का योगदान रहा। कार्यक्रम में वीकेपी ग्रुप के विभिन्न कॉलेज की फैकल्टी के साथ बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन छात्रा अनम सैफी एवं वान्या शर्मा ने किया। इसे सफल बनाने में असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. श्रुति सालवान, चंद्रशेखर आर्य, निमिषा राणा, तनिषा आहूजा, श्यामली पांडे, नेहा, मितिका गुप्ता का योगदान रहा।

Share.

About Author

Leave A Reply