Thursday, June 13

फर्जी अधिकारी बन की 18 लाख की लूट, 8 आरोपी गिरफ्तार

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मुंबई 06 दिसंबर। की सायन पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भांडाफोड़ किया है जो मुंबई के सायन इलाके में रहने वाले बिजनेसमैन के घर पर अक्षय कुमार की ‘स्पेशल 26’ स्टाइल में फर्जी इनकम टैक्स (आईटी) छापेमारी कर 18 लाख नगद लेकर फरार हो गए। बिजनेसमैन ने जब जांच पड़ताल किया तो उन्हे पता चला कि उनके पास फर्जीवाड़ा हुआ है। शक होने के बाद नजदीकी पुलिस स्टेशन शिकायत करने पहुंचे। पुलिस ने बिजनेसमैन की तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर लिया। सायन पुलिस ने अज्ञात शख्स के खिलाफ आईपीसी की धारा 420,452,465,468,471 और 120 के तहत मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू किया। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल कार्रवाई करते हुए 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

डीसीपी प्रशांत कदम ने बताया कि 26 नवंबर के दिन कुछ अज्ञात लोग बिजनेसमैन के घर पहुंचे और अपने आप को इनकम टैक्स का अधिकारी बताया। गिरोह के सदस्य औपचारिक कपड़ों में आए थे और फर्जी आईडी कार्ड दिखाकर खुद को आयकर अधिकारी बताए,उन्होंने फर्जी वारंट दिखाकर छापेमारी शुरू कर दी,उन्हें घर से 18 लाख रुपये नकद मिला,जो अपने साथ लेकर गए और कहा की ये प्रोसिजर है और आप को इनकम टैक्स का नोटिस आयेगा।

ठग के शिकार हुए बिजनेसमैन को उनकी कार्यवाही को लेकर शक हुआ तो उन्होने पूरे मामले की जानकारी निकाली तो पता चला इनकम टैक्स विभाग की ओर से कोई छापेमारी नहीं की गई। इसके बाद उन्होंने नजदीकी पुलिस स्टेशन में शिकायत की। पुलिस ने तुरंत मामले को संज्ञान में लेते हुए मामले की जांच शुरू की। और पुलिस ने अलग अलग जगहों से फर्जी इनकम टैक्स के 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया।

पुलिस निरीक्षक अविनाश जगताप ने आरोपियों की पहचान राजाराम मांगले (47), संतोष पटवाल (37), अमरदीप सोनावणे (29), भाऊराव इंगले (52), सुशांत लोहार ( 33 ), शरद एकावडे (33), अभय कासले (33) के रूप में की है। रामकुमार गुर्जर (33)। सभी रियल एस्टेट कारोबारका हिस्सा हैं और मानखुर्द, धारावी, नवी मुंबई और ठाणे के निवासी हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply