Friday, March 1

विश्व मुस्कान दिवस पर विशेष! अतुल गुप्ता, आयुष व पीयूष गोयल की सक्रियता को देखकर अपने आप आती है होठों पर मुस्कुराहट

Pinterest LinkedIn Tumblr +

सरकार के हरसंभव नागरिकों के चेहरे पर मुस्कान लाने और बेफिक्र जीवन जीने के लिए किए जा रहे प्रयास के बावजूद वर्तमान परिस्थितियों में कोई व्यक्ति दिन में कम से कम एक घंटा मुस्करा सके ऐसा सामान्य रूप से तो समझ से बाहर है क्योंकि सुबह से रात तक कुछ सरकारी हुक्मरानों द्वारा उत्पन्न की जाने वाली कठिनाईयों, महंगाई बेरोजगारी में आसानी से मुस्कराना तो दूर सामान्य भी बना रहे यह बड़ी बात है। लेकिन कुछ शख्यितें ऐसी होती है जिन्हें देखकर हमें अपने कष्ट बहुत कम लगने लगते हैं और उनके जीवन और कार्यों से हमारे चेहरे पर मुस्कुराहट दौड़ने लगती है।
इसके उदाहरण के लिए यूपी के मेरठ निवासी जाने माने बिल्डर अतुल गुप्ता के प्रेरणास्त्रोत जीवन से सबक लेने के साथ ही गंभीर बीमारियों से पीड़ित मेरठ के ही बलवंत एन्क्लेव निवासी सेब्रेल्स पाल्सी बीमारी से पीड़ित आयुष व पीयूष गोयल भाईयों को देख सकते है। जीवन में दुख और खुशी के क्षण कब आ जाए कोई नहीं सोच सकता। लेकिन एक बात विश्वास से कह सकता हूं कि जब हम मजबूत आत्मविश्वास से लबरेज बिल्डर अतुल गुप्ता आयुष व पीयूष गोयल को समाज में सक्रिय रूप से रहकर काम करते हुए देखते हैं तो जो मुस्कुराहट होठों पर आती है वही सच्ची मुस्कान कही जाती है। अतुल गुप्ता वर्तमान में केंद्र सरकार की एक कमेटी में राष्ट्रीय स्तर का सदस्य होने के साथ ही संघ और भाजपा के सेवाभावी कार्यों में आगे रहते हैं और जरूरतमंदों की मदद करने में कभी पीछे नजर नहीं आते। इसी प्रकार आयुष व पीयूष गोयल चाहे पर्यावरण संरक्षण हो या साक्षरता जो भी सामाजिक कार्य होता है उसमें बढ़ चढ़कर व्यापारी नेता विपुल सिंघल के साथ आगे नजर आते है। ऐसे ही लोगों की सक्रियता देखकर जो मुस्कान आती है वो ही सच्ची खुशियां होती है। विश्व मुस्कान दिवस पर यही कह सकता हूं कि निस्वार्थ भाव से सेवा के काम में लगे रहो। भगवान आपको स्वस्थ व खुशहाल जीवन देगा।

Share.

About Author

Leave A Reply