Monday, April 15

व्यापारियों ने खोला नगर निगम के खिलाफ मोर्चा कहा : हाउस टैक्स के नाम पर हो रहा उत्पीड़न

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 07 मार्च (प्र) मेरठ नगर निगम के खिलाफ व्यापारियों ने मोर्चा खोला। उत्तर प्रदेश व्यापार संघ के बैनर तले व्यापारी नगर निगम कार्यालय पहुंचे। यहां नगरायुक्त से मुलाकात कर शिकायती पत्र सौंपा। व्यापारियों ने कहा कि नगर निगम हाउस टैक्स वसूली के नाम पर व्यापारियों को सता रहा है। सबसे ज्यादा परेशान किराएदार व्यापारियों को किया जा रहा है। दुकान का बकाया गृहकर को ब्याज सहित किराएदार से वसूल रहे हैं। जो नियमानुसार गलत है। बकाया न देने पर दुकानें सील कर दी जा रही हैं। व्यापारियों ने अपनी परेशानियों का पूरा चिट्घ्ठा नगरायुक्त को देते हुए शीघ्र निस्तारण का आग्रह किया।

ये हैं व्यापारियों की मांगें समाधान भी बताए
नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायत में बकाया हाउस टैक्स पर ब्याज मूल धन से भी अधिक होने के कारण हाउस टैक्स का बकाया वसूली नहीं हो पा रहा है। इसलिए बिजली विभाग की भॉति एकमुश्त समाधान योजना बनाकर दण्ड ब्याज की माफी कर मूल धन आसान किस्तों में जमा कराए जाने की योजना आने से भारी मात्रा में बकाया हाउस टैक्स की राशि स्थानीय निकायों को प्राप्त हो जाएगी। जिससे स्थानीय निकायों की स्थिति में सुधार होगा तथा आम जनता को भारी राहत मिलेगी।

हाउस टैक्स बकाया होने पर स्थानीय निकायों द्वारा सीलिंग की कार्यवाही की जा रही है, जिसमें मकान मालिक से वसूली न कर किराएदार व्यापारियों की दुकानों को सील किया जा रहा है, जिससे व्यापार के साथ-साथ सरकार का राजस्व भी प्रभावित होता है। अतः आपसे अनुरोध है कि किराएदार द्वारा मकान मालिक को किराया दिया जाता है। हाउस टैक्स जमा करने की जिम्मेदारी मकान मालिक की होती है। हाउस टैक्स बाकी होने पर किराएदार के कब्जे वाली सम्पत्ति को सील न कर मकान मालिक के विरूद्ध हाउस टैक्स वसूली की कार्यवाही की जाए। यदि अत्यन्त आवश्यक हो, तो किराया स्थानीय निकाय के हित में अटैच कर लिया जाए। अधिकांश दुकानों में पानी के कनेक्शन की आवश्यता नहीं होती है, परन्तु स्थानीय निकाय द्वारा गृहकर के बिलों सभी से जलकर वसूला जा रहा है। जिन दुकानों पर पानी का कनेक्शन नहीं है वहॉ से जलकर की वसूली समाप्त किये जाने के आदेश पारित करने की कृपा करें। स्थानीय निकाय द्वारा पॉलिथीन पाबंदी के नाम पर फुटकर के छोटे दुकानदारों पर जुर्माना किया जा रहा है। प्रतिबन्धित पोलोथीन के उत्पादन पर रोक नहीं लगाई जा रही है। अतः आपसे अनुरोध है कि बाजारों में चालान व जुर्माना करने के स्थान पर प्रतिबन्धित पोलोथीन के निर्माण पर रोक लगाने की कार्यवाही किए जाने के आदेश पारित करने की कृपा करें।

नाले व नाली की सफाई करते समय कूड़ा (सिल्ट) कई दिन तक दुकानों के सामने पड़ा रहता है, जिसकी गंदगी से ग्राहकों को भारी असुविधा होती है तथा बीमारी फैलने का खतरा होता है। अतः आपसे अनुरोध है कि नाली व नालों की सफाई करते समय निकाली जा रही गदंगी (सिल्ट) को तुरन्त बाजार से सफाई कराने का आदेश पारित करने की कृपा करें।

Share.

About Author

Leave A Reply