Monday, July 22

चार बेटियां हुईं तो दिया तलाक, छोटे भाई से हलाला, फिर साथ रखने से इनकार

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 04 दिसंबर (प्र)। मेरठ से तलाक और फिर हलाला का मामला सामने आया है। तीन तलाक बैन होने के बाद भी इस प्रकार के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। दरअसल, महिला का कहना है कि चार बेटियां होने से नाराज पति ने उसे तलाक दे दिया था। इसके बाद छोटे भाई से हलाला के लिए निकाह करवाया। छोटे भाई के तलाक देने के बाद पति ने उसे साथ रखने से इनकार कर दिया। लिसाड़ी गेट थाने अपनी चारों बेटियों के साथ पहुंची महिला ने ससुरालीजनों के खिलाफ शारीरिक शोषण का केस दर्ज कराया है। पीड़िता महिला ने पुलिस को बताया कि चार बेटियां होने और बेटा न होने पर नाराज पति ने पहले तीन तलाक दे दिया था। इसके बाद उसे साथ रखने पर पति राजी हो गया। पति ने अपने छोटे भाई से हलाला करवाया। फिर साथ रखने से इंकार कर दिया। अब उसके छोटे भाई ने भी तलाक दे दिया है।

थाना भावनपुर क्षेत्र निवासी महिला का निकाह 2007 में फतेहउल्लापुर में शहजाद गार्डन कॉलोनी के रहने वाले युवक से हुआ था। निकाह के बाद महिला को चार बेटियां हुई। बेटा नहीं होने को लेकर पति नाराज रहने लगा। पीड़िता का आरोप है कि इसको लेकर आए दिन विवाद होता रहता था। छह माह पूर्व उसके पति ने तीन तलाक दे देकर घर से निकाल दिया। दोनों परिवारों के लोगों की पंचायत हुई। पति ने कहा कि हलाला के बाद वह पत्नी से दोबारा निकाह कर लेगा। इसके बाद देवर के साथ महिला का निकाह करा दिया गया।

महिला ने पति से दोबारा निकाह की बात की तो उसने साफ इंकार कर दिया। वहीं, अब देवर ने भी महिला को तीन दिन पहले तीन तलाक दे दिया। पीड़ित महिला ने अपने ससुरालियों के खिलाफ तीन तलाक और हलाला के नाम पर शारीरिक शोषण की तहरीर देकर मुकद्दमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने मामले की जांच के लिए महिला का बयान के लिए बुलाया है। महिला के बयान के बाद ही आगे की कार्रवाई की बात कही जा रही है।

Share.

About Author

Leave A Reply