Friday, March 1

बीमा पॉलिसी के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा, तीन शातिर गिरफ्तार 

Pinterest LinkedIn Tumblr +

गाजियाबाद 24 नवंबर । इंदिरापुरम कोतवाली पुलिस और साइबर सेल की टीम ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए कुरियर में स्टांप नहीं होने और बीमा पॉलिसी के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। तीन ठगों को गिरफ्तार कर पुलिस ने उनके पास से 27 डेबिट कार्ड, एक लैपटॉप, छह मोबाइल, तीन कार, दो चेक बुक और दो लाख रुपये बरामद किए है। गिरोह के अभी नौ ठग फरार हैं। ठग नोएडा के सेक्टर 132 में एक बिल्डिंग में कॉल सेंटर चलाकर लोगों से ठगी कर रहे थे। गिरोह ने वसुंधरा के रहने वाले चिकित्सक प्रभाष कुमार चौधरी से एक साल में 1.65 करोड़ की ठगी की थी। इसी की जांच में पुलिस ने गिरोह का खुलासा किया है।

एडीसीपी सच्चिदानंद ने बताया कि पकड़े गए ठगों में बिजनौर के धामपुर निवासी गौरव दुआ, एटा के पटियाली निवासी विजय कश्यप और बुलंदशहर के चोला के गांव कैथरा निवासी दिनेश कुमार शामिल है। गौरव हाल में गौतमबुद्धनगर के बिसरख में, विजय नोएडा के सेक्टर-44 और गौरव बीएससी पास है, विजय 12वीं और दिनेश बीए एलएलबी पास हैं।

एडीसीपी ने बताया कि गिरोह के फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है। उनके नाम का एक कुरियर आया है। जिस पर स्टांप शुल्क नहीं है। स्टांप शुल्क के 80 हजार रुपये देने के बाद कुरियर ले सकते हैं जो बाद में वापस हो जाएगी। उन्होंने दो बार में प्रभाष से 80 हजार रुपये ले लिए। निवेश करने पर अच्छे मुनाफे का झांसा देकर पांच लाख रुपये निवेश करा कर बताकर उनसे रुपये ऐंठते रहे। ऐसा करके उन्होंने 1.65 करोड़ रुपये ले लिए। मामले में डॉ. प्रभाष ने 29 जुलाई को इंदिरापुरम थाने में मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने बताया कि फरार आरोपियों में गैंग का सरगना भी शामिल है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें छापेमारी कर रही है। उन्हें भी जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Share.

About Author

Leave A Reply