Thursday, June 13

मोहिउद्दीनपुर के पास विकसित होगी इंटीग्रेटेड टाउनशिप,15 किसानों के खाते में भेजे 9.82 करोड़

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 28 मई (प्र)। प्रदेश की पहली इंटीग्रेटेड टीओडी टाउनशिप के लिए किसानों से मेरठ विकास प्राधिकरण (मेडा) ने बैनामा शुरू कर दिया है। बैनामे का शुभारंभ करने वाले मोहिउद्दीनपुर के चार खसरा संख्या 137, 140, 141 व 142 से संबंधित 15 किसानों के बैंक खाते में मेडा की ओर से नौ करोड़ 82 लाख 36 हजार 742 रुपये धनराशि भेज दी गई। उसके बाद संबंधित प्रपत्र पर सोमवार को संबंधित किसानों ने मेडा में हस्ताक्षर किए लेकिन तकनीकी भूल के कारण रजिस्ट्री नहीं हो सकी। अब उन किसानों को मेडा के पक्ष में रजिस्ट्री करने के लिए मंगलवार को बुलाया गया है। किसानों को सर्किल रेट का चार गुणा धनराशि दी जा रही है। इसके साथ ही संबंधित जमीन पर बने भवन, ट्यूबवेल, फसल आदि का मूल्यांकन करके अलग से धनराशि दी जा रही है।

यदि आप मेरठ से इस टाउनशिप के लिए जाएंगे तो परतापुर में बने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के इंटरचेंज से लगभग दो किमी की दूरी है। आरआरटीएस कॉरिडोर के मेरठ साउथ यानी भूड़बराल स्टेशन से इसकी दूरी 1.50 किमी है। यह टाउनशिप मोहिउद्दीनपुर चीनी मिल के सामने विकसित होगी। यानी मेरठ से दिल्ली की तरफ जाने पर यह दायीं तरफ पड़ेगी। मिल के सामने मालगाड़ी के लिए रेलवे क्रासिंग है, वहीं इसकी शुरुआत हो जाएगी। संबंधित चारों गांवों की जमीन दिल्ली रोड के किनारे खरीदी जा रही है ताकि पूरी टाउनशिप दिल्ली रोड किनारे विकसित हो सके।

दिल्ली रोड किनारे मोहिउद्दीनपुर और छज्जूपुर की जमीन लेकर टाउनशिप का फेस-वन विकसित किया जाएगा। इन दोनों गांवों के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। दोनों गांवों को मिलाकर 141.88 हेक्टेयर भूमि ली जाएगी।

दिल्ली रोड किनारे इकला और कायस्थ गावड़ी की जमीन लेकर टाउनशिप का फेस-टू विकसित किया जाएगा। इन गांवों के लिए अभी नोटिफिकेशन नहीं जारी किया गया है। दोनों गांवों को मिलाकर 152.78 हेक्टेयर भूमि ली जाएगी।

यह प्रदेश की पहली ऐसी इंटीग्रेटेड टीओडी टाउनशिप होगी जिसमें शापिंग कांप्लेक्स के ऊपर फ्लैट भी बनेंगे क्योंकि इसमें ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट (टीओडी) नीति के प्रविधानों का इस्तेमाल किया जाएगा। इसमें तीन चार मंजिल तक नीचे शापिंग कांप्लेक्स होंगे तो वहीं उसके ऊपर गगनचुंबी फ्लैट बनेंगे। इस टाउनशिप में आइटी पार्क, औद्योगिक क्षेत्र भी रहेगा। अत्याधुनिक अस्पताल, अपार्टमेंट, शापिंग कांप्लेक्स, आउटलेट, शिक्षण संस्थान आदि रहेंगे। टाउनशिप के अंदर परिवहन के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों की सुविधा मिलेगी। अत्याधुनिक पार्किंग स्थल रहेगा।

Share.

About Author

Leave A Reply